Pehchan Faridabad
Know Your City

बेटी की इस बात ने नीता अंबानी को कर दिया था दंग, बोली- बच्चे जो देखते हैं वहीँ सीखते हैं…

एशिया के सबसे अमीर शख्स और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मालिक मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी हमेशा से अपने बच्चों को लेकर बेहद सजग रहे हैं। एक तरफ वह पैरेंटिंग में सख्त रहे हैं तो दूसरी तरफ बच्चों की सभी जरूरतों का ख्याल भी रखते रहे हैं।

जी हां अम्बानी परिवार की बात करें तो इनके बच्चे बेहद संस्कारी है। मुकेश अंबानी और नीता अंबानी के बच्चे आकाश, अनंत और ईशा में उनके संस्कार हमेशा झलकते है।

एक इंटरव्यू के दौरान नीता अंबानी और मुकेश अंबानी ने कहा था कि उनके बच्चे जमीनी हैं और लगभग सामान्य जीवन ही जीते हैं।

नीता अंबानी का मानना है कि बच्चे जो देखते हैं वहीं सीखते हैं। मुकेश और नीता अपने तीनों बच्चों की शिक्षा और संस्कार में उस हर बात का ख्याल रखा, जो उन्हें योग्य बनाने के साथ ही अच्छा इंसान भी बनाए।

उनकी पत्नी नीता अंबानी ने भी अपने बच्चों के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए उन्हें अच्छी शिक्षा दी। भले ही मुकेश अंबानी एशिया के सबसे अमीर शख्स हों लेकिन उन्होंने अपने बच्चों को डाउन टू अर्थ रहने की सीख दी है। हाल ही में एक इंटरव्यू में नीता अंबानी ने अपनी बेटी की सबसे अच्छी चीज सबके सामने लेकर आई।

उन्होंने कहा कि मैं अपना ट्रीटमेंट एक डॉक्टर है उनसे करवाती हूं। उन्हें हमेशा एक थैंक यू नोट्स भेजती हूं। वहीं कुछ दिन पहले मेरे दांतों में दर्द था और मैंने डॉक्टर को बुलाया तो उनके पास मैंने थैंक यू का नोट्स देखा जो ईशा अंबानी ने उन्हें लिखा था। नीता ने आगे कहा कि मैं वो नोट देख हैरान जो गयी और खुश भी तब माना कि बच्चे जो देखते है वही सीखते है।

और मुझे अपने बच्चे पर बहुत ही गर्व महसूस होता है। जो हमने बचपन में सिख दी है वो सिख हमारे बच्चे में आज तक कायम है। दरअसल नीता कई इंटरव्यू में बता चुकी हैं कि कैसे उन्होंने बच्चों की परवरिश में मिडिल क्लास वैल्यू को ध्यान में रखा है। यही वजह है कि आज नीता अंबानी कहती है कि बच्चे जो देखते हैं वही सीखते हैं।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More