Pehchan Faridabad
Know Your City

जलाई पराली तो लगा 2500 का जुर्माना ,प्रदूषण के खिलाफ सचेत है सरकार

प्रदुषण ने बल्लभगढ़ को सबसे सर्वाधिक प्रदूषित सहर बना दिया है। फरीदाबाद की हवा में ज़हर घुलता जा रहा है जिससे लोगो को सांस लेने में तकलीफ होती है। प्रदुषण नियंत्रण बोर्ड सेक्टर १९ में चल रहे अवैध रूप से चल रहे आरएमसी प्लांट को बंद कर दिया गया है

यह प्लांट अवैध रूप से बिना किसी मंजूरी के चल रहे थे जिसमे प्रदुषण नियत्रण के लिए किसी भी प्रकार के कोई भी इंतज़ाम नहीं किये गए थे ।


वही प्रदुषण नियत्रण बोर्ड की रीजनल ऑफिसर स्मिता कनोडिया ने बताया की नगर निगम व हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के ऑफिसर्स को पत्र लिखकर सफाई वयवस्था को बेहतर करने के लिए कहा गया है। शहर में जहां भी कूड़े के ढेरो को साफ़ करने के लिए भी सूचित किया गया है।

अगर बात फरीदाबाद मई प्रदुषण की हो रही तो शहर की हवा स्वम ही ख़राब हो जाती है अभी तक फरीदाबाद का ए क्यू आई २३१ दर्ज़ किया गया है। यह आकंड़े दिन प्रतिदिन बढ़ रहे है। यह स्थिति शहर के लिए खतरनाक है।

वही प्रदुषण से संबधित सभी गतिविधियों के खिलाफ संबधित विभागों की तरफ से उचित कार्यवाही भी की जा रही है।

पराली जलने को लेकर सरकार के सख्त आदेश जिला कृषि विभाग के डिप्टी डायरेक्टर डॉ अनिल कुमार ने बताया हरियाणा अंतरिक्ष केंद्र से जो तस्वीरें सामने आयी है उनमें दो जगह पराली जलती दिखाई दे रही है। इनमेसे महावतपुर गांव की थी और एक भूपानी की थी लेकिन जब टीम ने वह जाकर निरक्षण किया तो गांव महावतपुर में जलना का कोई मामला नज़र नहीं आया।

बल्कि वहां पर थोड़ा सा कूड़ा जलने का का मामला था लेकिन इस उक्त वाकय से सम्बंधित व्यक्ति को मात्र चेतवानी देकर छोड़ दिया गया लेकिन जब भूपानी जाकर देखा तो वह पर पराली जलाने का मामला सामने आये थे तो उस पर युक्त व्यक्ति पर 2500 रूपये का जुर्माना लगाया गया।

इस समय पराली भी प्रदूषण का कारण बन चुकी है लेकिन सरकार द्वारा किसानो को पराली जलाने पर रोक है लेकिन उसके बाबजूद भी किसान पराली जला रहे है इस कारन किसानो पर अंतरिक्ष उपयोग केन्द्र से उन पर नजर राखी जा रही है और इसी आधार पर किसानो पर कार्यवाही की जा रही है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More