Pehchan Faridabad
Know Your City

जानिए आखिर क्यों पंजाब के मुख्यमंत्री पर बरसे हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ।

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने पंजाब सरकार द्वारा विधानसभा में कृषि बिलों के विरूद्ध पास किए गए कृषि बिल को लेकर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर सियासी हमला बोला है। उन्होंने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री पंजाब के कृषि बिलों की आड़ में किसानों को धोखा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर कैप्टन अमरिंदर सिंह किसानों के सच्चे दिल से हितैषी हैं तो उन्हें केवल गेहूं व धान की खरीद एमएसपी पर करने की बजाय सरसों, कपास बाजरा, दलहन, सूरजमुखी जैसी अन्य फसलों की भी खरीद एमएसपी पर करने के लिए कानून बनाना चाहिए।

डिप्टी सीएम ने कैप्टन अमरिंदर से सवाल पूछा है कि कांग्रेस शासित प्रदेशों में उनकी सरकारें सभी फसलों को एमएसपी पर खरीदने का बिल अपनी विधानसभाओं में क्यों नहीं पास करती। उन्होंने कहा कि जबकि हरियाणा सरकार खरीफ की पांच फसलों को जिनमें, सुरजमुखी, बाजरा, मक्का, कपास व धान की खरीद एमएसपी कर रही है। वे वीरवार को जेजेपी के नवनियुक्त चेयरमैनों को पदभार ग्रहण करवाने उपरांत पत्रकारों से रूबरू हो रहे थे।

डिप्टी सीएम ने कहा कि पंजाब में कपास की फसल की भी सीसीआई द्वारा एमएसपी पर खरीद शुरू नहीं की गई है जबकि हरियाणा में कपास की खरीद सीसीआई द्वारा एमएसपी पर खरीदी जा रही है। उन्होंने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री की नीयत व नीति दोनों में खोट है और वो लगातार किसानों को बरगलाने का बीड़ा उठाए हुए हैं।

अब हरियाणा में 1509 धान की खरीद एमएसपी पर, खरीद के दिए हैं आदेश – डिप्टी सीएम
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि पहले हरियाणा में धान की 1509 किस्म की एफसीआई द्वारा खरीद नहीं की जाती थी इसलिए हरियाणा सरकार ने निर्णय लिया है कि 1509 किस्म की धान की खरीद अन्य किस्मों की तर्ज पर हैफेड द्वारा 1885 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जायेगी। इस बारे में उन्होंने अधिकारियों को आदेश जारी कर दिए हैं।

किसानों के डेढ़ हजार करोड़ रूपए भुगतान प्रक्रिया में – डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसानों की फसलों की विभिन्न सरकारी एजेसिंयो द्वारा खरीद की जा रही है और किसानों को समय पर भुगतान के लिए सरकार गंभीरता से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि किसानों को भुगतान किए जाने वाली करीबन 1500 करोड़ रूपये की राशि भुगतान प्रक्रिया में है और जल्द ही यह राशि किसानों की जेबों में पहुंच जाएगी।

ऐतिहासिक मार्जिन से जीतेगा गठबंधन प्रत्याशी – दुष्यंत चौटाला बरोदा उपचुनाव के सवाल पर डिप्टी सीएम ने गठबंधन प्रत्याशी की जीत का दावा किया और कहा कि ऐतिहासिक बढ़त हासिल कर बरोदा में हमारा प्रत्याशी योगेश्वर दत्त विजयी होंगे। उन्होंने कहा कि पिछली बार भारतीय जनता पार्टी का प्रत्याशी मात्र करीब पांच हजार के अंतर से हारा था जबकि बीजेपी व जेजेपी अलग-अलग चुनाव लड़ रहे थे। इस बार भाजपा व जेजेपी एक साथ बरोदा उपचुनाव के मैदान में उतरे हैं और इस लिहाज से गठबंधन प्रत्याशी रिकॉर्ड अंतर से विजयी होगा।

उन्होंने कहा कि जेजेपी व बीजेपी के दोनों उम्मीदवारों को कुल करीब 70 हजार वोट मिले थे जबकि कांग्रेस को 42 हजार वोट मिले थे। उन्होंने कांग्रेस को लेकर चुटकी ली की कि कपूर नरवाल अपने राजनीतिक लालच के लिए कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में बैठ गए और उन्होंने अपना नामांकन वापस ले लिया। दुष्यंत ने कहा कि अगले ही दिन कांग्रेस ने कपूर नरवाल को मंच पर जगह न देकर जमीन पर बैठा दिया और उपचुनाव नतीजे के दिन स्वयं कांग्रेस प्रत्याशी जमीन पर आ जाएगा।

जल्द ही प्रचार के लिए बरोदा जाऊंगा – डिप्टी सीएम
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि बरोदा उपचुनाव में प्रचार को लेकर दोनों दलों के नेता मंथन करने में जुटे हैं और वह स्वयं जल्द ही बरौदा उपचुनाव में गठबंधन प्रत्याशी के पक्ष में चुनाव प्रचार के लिए मैदान में उतरेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल व मेरे कार्यक्रमों को अंतिम रूप दिया जा रहा है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More