Pehchan Faridabad
Know Your City

महामारी के दौर में एनआईटी की विजय रामलीला कमेटी ने किस प्रकार मनाया अपना वार्षिक दशहरा पर्व ।

शहर की 70 वर्ष पुरानी एन आई टी स्तिथ श्री विजय रामलीला कमेटी ने कुछ इस तरह मनाया अपना वार्षिक दशहरा पर्व। सोशल डिस्टनेसिंग और अन्य रूल्स को ध्यान में रखते हुए संस्था ने निर्णय लिया की वह मंचन नहीं करेंगे और किसी कीमत पर भी जन मानस की जान के साथ रिस्क नहीं लेंगे क्योंकि रामलीला मैदान में कार्यक्रम के दौरान भीड़ सम्भले नहीं सम्भलती।

लेकिन जिस मंच की मिट्टी पर पिछले 70 सालों से मर्यादा पुरषोत्तम भगवान राम की जीवन लीला दर्शाई जा रही है उस मंच को खाली भी नहीं छोड़ा जाना चाहिए इसी विचार के साथ रामचरित्र मानस की चापुआइयों के माध्यम से आज कमेटी में अखण्ड रामायण की ज्योत जलाई गयी, कम से कम लोगों को सम्मिलित किया गया,

सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करते हुए भव्य दरबार लगा कर कमेटी के सदस्यों ने ही ज्योत प्रचण्ड की, पांच रामायणी ब्राह्मणो को बिठा पाठ का शुभारम्भ हुआ । कल दोपहर नवमी के पावन अवसर पर पाठ का समापन किया जाएगा और भजन बेला के साथ भण्डारा वितरित किया जाएग।

कमेटी के चेयरमैन सुनील कपूर ने बताया कि किस तरह उन्होंने मंच की गरिमा को बनाये रखने के लिए उन्होंने इस कार्यक्रम को आयोजित किया वहीँ दूसरी और कमेटी के महसचिव सौरभ कुमार वा उनकी टीम हिमांशु अरोड़ा, अरुण भाटिया,

तरुण भाटिया, गरीवित, प्रिंस मनोचा, नवीन अरोड़ा ने सचिव वैभव लड़ोइया के साथ मिल कर इस कार्यक्रम की कोविड सेफ रूप रेखा तैयार की वा इसको सुचारु रूप दिया। उनका कहना है की कोविड ने भीड़ ज़रूर कम की है हमारा उत्साह और आस्था नहीं।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More