Pehchan Faridabad
Know Your City

अब आपकी बेटी अकेले सुरक्षित सफर कर पाएंगी, मेरी सहेली योजना का हुआ शुभारंभ

देश भर में महिलाओं के साथ अपराध का ग्राफ निरंतर बढ़ता देखते हुए सरकार ने नियम और कानून तो बहुत बनाये पर इनका कुछ ख़ास असर समाज पर पड़ता नज़र नहीं आ रहा। चाहे POCSO (Protection Of Children Under Sexual Offense) का कानून हो या IPC की कोई भी धारा, महिलाओं के खिलाफ अपराध को अंजाम देने वाले असामजिक तत्वों को किसी क़ानून, कोई धारा का डर नहीं।

महिलाओं के साथ अपराध को कम करने के लिए आरपीएफ पुलिस ने एक अनूठी पहल की है। अब ट्रेनों में अकेले सफर कर रही महिलाएं खुद को असुरक्षित महसूस न करें, उसके लिए महिलाओं की मदद करने के लिए मेरी सहेली योजना की शुरुआत की गई है। बता दें कि इस योजना के तहत अब महिलाएं यदि ट्रेन से अकेले सफर कर रही हैं, तो उक्त महिला यात्रियों की सूची हासिल करके उसे रेल मंडल के नियंत्रण कक्ष तक पहुंचाया जाएगा। और उसी सूचना को अगले स्टेशनों पर आरपीएफ के स्टाफ तक पहुंचाया जाएगा।

साथ ही, स्टशनों पर तैनात आरपीएफ महिला यात्रियों की सुरक्षा व्यवस्था पर नजर रखेगा। इसके लिए अंबाला डीआरएम गुरिंद्र मोहन सिंह ने महिला सुरक्षा की एक टीम गठित की है। सीनियर डीसीएम हरि मोहन कि अंबाला कैंट रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ की तीन महिला अधिकारियों को नियुक्त किया है जो महिला यात्रियों से सफर के दौरान हुई पानी, वॉशरूम, छेड़खानी, सफाई संबंधी समस्याओं के बारे में जानकारी लेंगी। ताकि सफर के दौरान किसी भी महिला के साथ किसी भी तरह का अपराध ना होने पाए।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More