Pehchan Faridabad
Know Your City

अमेरिका की 30 बड़ी कंपनियों ने हरियाणा में प्रोजेक्ट लगाने के लिए जाहिर की अपनी इच्छा

हिसार के अंतर्गत आने वाले हवाई अड्डे पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का उपमुख्यमंत्री रोशन चौटाला के साथ एक गुप्त मीटिंग आयोजित की गई। इस मीटिंग में विमानन कंपनियों के प्रतिनिधियों ने अपना प्रस्ताव भी प्रस्तुत किया।

वही विमानन कंपनियों ने हरियाणा क्षेत्र में आने वाले एविएशन में इंफ्रास्ट्रक्चर उन्नत करने और इस क्षेत्र में रोजगार के लिए ट्रेनिग सेंटर स्थापित करने के प्रस्ताव दिए हैं।

इस मौके पर अमेरिका-भारत एविएशन कॉर्पोरेशन प्रोग्राम के डायरेक्टर संदीप बहल ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को परिचित करवाते हुए बताया कि अमेरिका की 30 बड़ी एविएशन कंपनियां हरियाणा में अपने प्रोजेक्ट लगाना चाहती हैं।

इस पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा उनके द्वारा किए गए अमेरिका दौरे के दौरान एविएशन प्रोजेक्ट्स के बारे में हुई चर्चा का भी जिक्र किया। वहीं सीएम ने डायरेक्टर संदीप बैल द्वारा प्रस्तुत किए गए प्रस्ताव की सराहना भी की। सीएम मनोहर लाल ने कहा कि उनकी सरकार हर मुमकिन कोशिश करेगी।

एविएशन कंपनी के के द्वारा प्रस्तुत किए गए प्रस्ताव

हैवस कंपनी के सीएमडी अंशुल भारद्वाज ने बताया कि उनकी कंपनी का उद्देश्य एयरक्राफ्ट के कंपोनेंट की मेटेनेंस का प्लांट लगाने का है।एफएसटीसी कंपनी के एमडी कैप्टन दिलावर सिंह बसरों ने बताया कि उनका प्रोजेक्ट कॉमर्शियल पायलट ट्रेनिग देने का है। इसके लिए उनकी कंपनी प्राइवेट सहयोगी के रूप ने सरकार के साथ काम करना चाहती है।

ब्ल्यू सिनर्जी कंपनी की एमडी नीलू खत्री ने बताया कि उनकी कंपनी का उद्देश्य एविएशन के क्षेत्र में ग्रुप सी और डी की नौकरी के लिए जरूरी कोर्स की ट्रेनिग देना है। उन्होंने बताया कि एविएशन के क्षेत्र में हरियाणा के युवाओं को टेक्नीशियन, रनवे हैंडलर्स, रनवे पर गाडियां चलाने की ट्रेनिग, एटीसी स्टाफ और सिक्योरिटी आदि में दक्ष बनाने की ट्रेनिग दी जाएगी। इसके लिए हरियाणा के किसी सरकारी विश्वविद्यालय से समझौता किया जाएगा। ट्रेनिग लेने वाले युवाओं को अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त अथॉरिटी का सर्टिफिकेट भी उपलब्ध कराएंगे।

एयर टैक्सी के कैप्टन वरुण सिहाग ने बताया कि उनकी कंपनी के पास तीन सीटर और 9 सीटर जहाज हैं। उनकी कंपनी हिसार से देहरादून और हिसार से चंडीगढ़ तक की उड़ान शुरू करने के लिए तैयार है। स्पाइस जेट से जाना जाएगा प्रोजेक्ट का स्टेट्स।

सीएम ने बिजनेस मीट के दौरान स्पाइस जेट कंपनी के प्रतिनिधि जितेंद्र पांडेय से यह भी सवाल किया कि उनकी कंपनी के प्रोजेक्ट का क्या स्टेट्स है। इस पर पांडेय ने कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण कुछ देरी हुई है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि उनका प्रोजेक्ट जल्द शुरू हो जाएगा।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More