Pehchan Faridabad
Know Your City

बरोदा में बीजेपी-जेजेपी का “पहलवान” भारी मतों से जीतेगा – दिग्विजय चौटाला

इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने बरोदा उपचुनाव में बीजेपी-जेजेपी गठबंधन के उम्मीदवार पहलवान योगेश्वर दत्त की जीत का दावा करते हुए कहा है कि वे पिछले एक हफ्ते से क्षेत्र के दौरे पर है और गठबंधन की दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं के चेहरे की चमक बता रही है कि यहां से बीजेपी-जेजेपी का पहलवान भारी मतों से जीत रहा है।

दिग्विजय ने पार्टी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे बाकी बचे दिनों में दिन-रात एक करते हुए इस जीत को और बड़ी जीत की तरफ लेकर जाएं। उन्होंने कहा कि योगेश्वर दत्त बरोदा से विजय होकर गठबंधन सरकार की ताकत में एक सीट और जोड़ेंगे और बरोदा के विकास में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगे। वे वीरवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल व राज्यमंत्री अनूप धानक के साथ बरोदा के गांव कथूरा, धनाना, बरोदा, भुटाना, जागसी में बीजेपी-जेजेपी द्वारा आयोजित जनसभाओं में योगेश्वर दत्त के लिए वोट की अपील कर रहे थे।

दिग्विजय चौटाला ने योगेश्वर दत्त को जननायक चौ. देवीलाल का उम्मीदवार बताते हुए कहा कि बरोदा चौधरी देवीलाल जी का हमेशा से गढ़ रहा है और यहां से सात विधायक उनकी विचारधारा से जुड़े हुए बने हैं।

उन्होंने कहा कि बरोदावासी देवीलाल जी के इस उम्मीदवार को आठवां विधायक बनाकर चंडीगढ़ भेजें। दिग्विजय ने कहा कि आज देवीलाल जी के परिवार की तीन पीढ़ी बिजली मंत्री चौधरी रणजीत सिंह, जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह चौटाला, उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला और वे स्वयं योगेश्वर दत्त के लिए वोट की अपील कर रहे है।

उन्होंने कहा कि चौधरी देवीलाल हमेशा गरीब किसान, कमेरे वर्ग के हितैषी रहे इसलिए यहां की जनता कमेरे और लुटरे की पहचान करते हुए कमेरे को जिताने का कार्य करें।

  • पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा को दिग्विजय चौटाला का करारा जवाब
    दिग्विजय ने कहा कि बरोदा में योगेश्वर दत्त से बेहतर उम्मीदवार कोई नहीं है। इस सोनीपत के लाल ने अंग्रेजों की धरती पर तिरंगा लहरा कर हमें हरियाणवी होने का गर्व महसूस करवाया है लेकिन इसके बावजूद पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा जात-पात का जहर फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हुड्डा योगेश्वर दत्त को ब्राह्मण का बेटा बताकर जात-पात की बात कर रहे है। दिग्विजय ने हुड्डा को याद दिलाया के वे कभी गांव भैंसवाल में जाकर पहलवान योगेश्वर को छाती से लगाकर कहते थे कि अपने पुत्र दीपेंद्र से योगेश्वर उन्हें प्यारा है तो आज पराया कैसे हुआ। उन्होंने कांग्रेस के “सर्कस के शेर” वाले बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि सोनीपत का लाल योगेश्वर दत्त हिंदुस्तान का शेर हैं और डीएसपी, एसपी के पद की सरकारी नौकरी छोड़कर बरोदा की जनता की सेवा करने के लिए आया हैं। उन्होंने कहा कि आज पिता-पुत्र भूपेंद्र व दीपेंद्र हुड्डा बरोदा उपचुनाव जीतकर सत्ता का सुख भोगने का सपना देख रहे है जबकि प्रदेश में मजबूती के साथ गठबंधन सरकार के साथ 57 विधायक है और योगेश्वर भी यहां से जीतकर सरकार की ताकत में इजाफा करेंगे।
  • कांग्रेस प्रत्याशी पर दिग्विजय का कटाक्ष
    दिग्विजय चौटाला ने कांग्रेस उम्मीदवार पर भी कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस वाले अपने उम्मीदवार को भालु कहते है और दावा करते है कि उनका भालु पहलवान को चित कर देगा। दिग्विजय ने कहा कि यह कोई चिड़ियाघर का चुनाव नहीं है, ये चुनाव बरोदा के भविष्य का चुनाव है इसलिए क्षेत्र की जनता यहां से योग्य उम्मीदवार योगेश्वर दत्त को विधानसभा भेजेगी ताकि बरोदा राज में सहयोगी होकर विकास पथ पर अग्रसर हो। उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी के लिए हुड्डा ही सब कुछ है, वे तो विधानसभा में ये बोल देंगे कि हुड्डा से पूछ लीजिए। क्या वे विधानसभा में बरोदा के लिए कुछ बोल पाएंगे ?

इस दौरान राज्य मंत्री अनूप धानक ने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री मनोहर लाल व उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला द्वारा गरीबों, युवाओं, किसानों, मजदूरों समेत तमाम वर्गों के हित में विकास कार्य करवाए जा रहे है। उन्होंने अपील की कि बरोदावासी विकास की इस यात्रा में सक्रिय भागीदार बने और मतदान वाले दिन गठबंधन उम्मीदवार योगेश्वर दत्त को अपना आशीर्वाद दें।

उन्होंने जेजेपी के कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे सभी योगेश्वर दत्त को जितवाने के लिए उन्हें डॉ. अजय चौटाला, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय चौटाला समझकर पूरी मेहनत करें।

इस अवसर पर बिजली मंत्री चौधरी रणजीत सिंह, भाजपा विधायक एवं जिलाध्यक्ष मोहन लाल बड़ौली, पूर्व मंत्री कविता जैन, मनीष ग्रोवर, पूर्व विधायक रमेश खटक, हरियाणा अनुसूचित जाति वित्त विकास निगम के चेयरमैन एवं जेजेपी नेता पवन खरखौदा, जेजेपी युवा प्रभारी सुमित राणा, जेजेपी के पूर्व उम्मीदवार भूपेंद्र मलिक, बबीता दहिया सहित जेजेपी-बीजेपी के कई वरिष्ठ नेता एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More