Pehchan Faridabad
Know Your City

प्रथम स्वतंत्रता संग्राम से देश के युवाओं को अवगत करवाने हेतु हरियाणा के अंबाला कैंट में बनाया जाएगा यह भव्य स्मारक

प्रथम स्वतंत्रता संग्राम से देश के युवाओं को अवगत करवाने व देशप्रेम की भावना से ओत-प्रोत करने हेतु हरियाणा के अंबाला कैंट में ‘आजादी की पहली लड़ाई का भव्य स्मारक’ बनने जा रहा है, जो अपने आप में अनूठा होगा। पारंपरिक कला के साथ-साथ नवीनतम तकनीकों का उपयोग करते हुए डिजिटल वॉक-थ्रू तथा इंटरएक्टिव स्क्रीन इस स्मारक को और शानदार बनाएंगे।


इस संबंध में आज यहां हरियाणा के गृह एवं शहरी स्थानीय निकाय मंत्री श्री अनिल विज ने संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक ली और इस परियोजना के कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने इस स्मारक में प्रदर्शित की जाने वाली कथाओं व जानकारियों के लिए इतिहासकारों की एक कमेटी बनाने के भी निर्देश दिए।


बैठक में आर्किटेक्ट ने परियोजना के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस स्मारक में आजादी की पहली लड़ाई की विभिन्न घटनाओं को ऑडियो-विजुअल, शॉर्ट फि़ल्म्स, डिजिटल वॉक थ्रू, 5-डी ऑडिटॉरीयम बनाया जा रहा है। स्मारक को भव्य बनाने के लिए स्वतंत्रता सेनानियों व आज़ादी की लड़ाई की पेंटिंग्स भी लगाई जाएंगी।


उन्होंने बताया कि स्मारक में आजादी से पहले और बाद का नक्शा व दृश्य भी तैयार किए जाएंगे, जिससे सभी देश की संपूर्ण जानकारी से अवगत हो सकेंगे। हरियाणा की योद्धाओं की अलग से गैलरी बनाई जाएगी। इस स्मारक में 210 फुट ऊंचाई के विशाल और आकर्षक मैमोरियल टावर के साथ-साथ 20 फुट ऊंची दीवार बनाई जाएगी, जिन पर आजादी की लड़ाई के योद्धाओं का उल्लेख किया जाएगा। इस स्मारक में विकसित किए जाने वाले 6 लॉन में स्वतंत्रता सेनानियों का उल्लेख होगा तथा अम्बाला के इतिहास और 1857 की क्रांति में हरियाणा के वीरों के योगदान पर आधारित म्यूजियम भी बनाया जा रहा है।


उन्होंने बताया कि 5 अलग-अलग भवन तैयार किए जा रहे हैं जिसके तहत इंटरप्रीटेशन सैंटर, ओपन ऐयर थियेटर, ऑडिटोरियम, म्यूजियम व मैमोरियल टावर शामिल हैं। ओपन एयर थियेटर के हॉल, फूड कोर्ट, एग्जिबिशन के साथ-साथ म्यूजियम बिल्डिंग में आधुनिक लिफ्ट की व्यवस्था के साथ-साथ अन्य व्यवस्थाएं भी की जाएंगी। ऑडिटोरियम में स्थित ओपन थियेटर में लोगों के बैठने की व्यवस्था , 20 अलग-अलग प्रकार के फव्वारे, वाटर कर्टेन के साथ-साथ दो प्लेटफार्म व अन्य व्यवस्थाएं रहेंगी। कार पार्किंग और हैलीपैड की भी सुविधा होगी।
बैठक में लोक निर्माण (भवन एवं सडक़ें) विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री आलोक निगम, सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती धीरा खण्डेलवाल, सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक श्री पी. सी. मीणा सहित लोक निर्माण (भवन एवं सडक़ें) विभाग के इंजीनियर और आर्किटेक्ट भी उपस्थित थे।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More