Online se Dil tak

फ़रीदाबाद पुलिस द्वारा आरोग्यम उत्सव का किया गया आयोजन,300 पुलिस कर्मचारियों ने कार्यक्रम में लिया हिस्सा


जैसा कि आप सभी को ज्ञात है कि विश्व स्वास्थ्य दिवस प्रत्येक वर्ष 7 अप्रैल यानी विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना दिवस पर मनाया जाता है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में मनाए जाने वाले दिनों में से है एक महत्वपूर्ण दिवस है। इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य दुनिया भर में एक समान स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं के प्रति जागरूकता फैलाना तथा इससे जुड़ी समस्याओं पर विचार कर उन पर कार्य करना है जिसके लिए सरकारी स्वास्थ्य प्रशासन, पेशेवर समूह तथा स्वास्थ्य के क्षेत्र में कार्यरत संगठनों के साथ सहयोग स्थापित किया जाता है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि विश्व स्वास्थ्य दिवस के मनाने का मुख्य उद्देश्य स्वस्थ दुनिया का निर्माण करना है। मानव जीवन का पहला सुख निरोगी काया है। एक कहावत है पहला सुख निरोगी काया दूसरा सुख हो धन माया तीसरा सुपुत्र की छाया। लेकिन इस परम सुख की प्राप्ति हेतु हमें अच्छी दिनचर्या संतुलित आहार योग साधना तथा नित्य कार्यों जैसे कुछ सूत्रों के जीवन में धारण करना आवश्यक है। इसके अतिरिक्त दुनिया के 7 सबसे बड़े डॉक्टर हैं सूर्य की किरणें, अच्छी नींद, शुद्ध शाकाहारी भोजन, प्रतिदिन व्यायाम, पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन, आत्मविश्वास तथा अच्छे दोस्त। यदि हम जीवन अच्छा स्वास्थ्य और शांति चाहते हैं तो योग का रास्ता अति उत्तम है।

फ़रीदाबाद पुलिस द्वारा आरोग्यम उत्सव का किया गया आयोजन,300 पुलिस कर्मचारियों ने कार्यक्रम में लिया हिस्सा
फ़रीदाबाद पुलिस द्वारा आरोग्यम उत्सव का किया गया आयोजन,300 पुलिस कर्मचारियों ने कार्यक्रम में लिया हिस्सा



इसी क्रम में विश्व स्वास्थ्य दिवस 2022 के मौके पर पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा के निर्देशानुसार फरीदाबाद पुलिस के पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों को स्वस्थ्य के प्रति जागरूक करने के लिए जिला पुलिस प्रशासन ने आज पुलिस लाइन में ‘आरोग्यम उत्सव’ कार्यक्रम का आयोजन किया। इस अवसर पर डीसीपी नीतीश अग्रवाल, एसीपी सराय देवेंद्र कुमार, एसएचओ एनआईटी, सेक्टर 7, सेक्टर 17, ओल्ड, सेक्टर 31, सेंट्रल, एसएचओ ट्रैफिक, सभी क्राइम ब्रांच प्रभारी, तीनों महिला थानों की थाना प्रभारी अपनी टीम के साथ मौजूद रहे।


‘आरोग्यम उत्सव’ के अंतर्गत आयोजित योग सत्र, मानसिक स्वास्थ्य सम्बंधित कार्यशाला, रक्तदान शिविर, फिजियोथैरेपी, अधिकारियों द्वारा फिटनेस पर भाषण तथा 5 किलोमीटर मैराथन जैसे कार्यक्रमों में करीब 300 पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने भाग लिया। इस अवसर पर पुलिस प्रशासन ने शारीरिक फिटनेस के साथ-साथ मानसिक स्वास्थय का ध्यान रखने का भी महत्व समझाया। साथ ही स्वस्थ कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे डॉक्टर ने पुलिसकर्मियों को स्वस्थ भोजन खाने का महत्व बताते हुए कहा कि “गुड फ़ूड मतलब गुड मूड” इसलिए अच्छा भोजन लें और रोज़ाना समय पर कसरत करे।

फ़रीदाबाद पुलिस द्वारा आरोग्यम उत्सव का किया गया आयोजन,300 पुलिस कर्मचारियों ने कार्यक्रम में लिया हिस्सा
फ़रीदाबाद पुलिस द्वारा आरोग्यम उत्सव का किया गया आयोजन,300 पुलिस कर्मचारियों ने कार्यक्रम में लिया हिस्सा



डीजीपी हरियाणा श्री पीके अग्रवाल ने ‘आरोग्यम उत्सव’ के दौरान एक वीडियो सन्देश के माध्यम से सभी पुलिसकर्मियों और अधिकारियों को स्वास्थय का विशेष रूप से ध्यान रखने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि स्वस्थ रहने के लिए उचित खान-पान, नियमित रूप से योग व्यायाम आदि आवश्यक हैं और पुलिस के समक्ष आने वाली विभ्भिन चुनौतियों और परिस्थितियों का सामना करने में शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थय अहम भूमिका निभाता है।


पुलिस उपायुक्त मुख्यालय नीतीश अग्रवाल ने पुलिस कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पुलिस दिन-रात सक्रिय रूप से काम करती है। व्यस्त कार्यशैली के कारण कई बार पुलिसकर्मियों को स्वस्थ्य सम्बंधित समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है। लेकिन वे उतने ही साहस के साथ फील्ड में फिर से उतरकर लोगों की सेवा में अपना अहम योगदान सुनिश्चित करते हैं।

फ़रीदाबाद पुलिस द्वारा आरोग्यम उत्सव का किया गया आयोजन,300 पुलिस कर्मचारियों ने कार्यक्रम में लिया हिस्सा
फ़रीदाबाद पुलिस द्वारा आरोग्यम उत्सव का किया गया आयोजन,300 पुलिस कर्मचारियों ने कार्यक्रम में लिया हिस्सा



यह कार्यक्रम आज हरियाणा पुलिस द्वारा राज्य स्तर पर आयोजित किया जा रहा है। पुलिस बल की व्यस्त दैनिक कार्यशैली स्वस्थ्य के प्रति ध्यान को एक संवेदनशील मुद्दा बनाती है और हमारा यह भी मानना है कि अच्छे स्वास्थ्य को सुनिश्चित करके ही पुलिस जनता की अधिक सक्रिय रूप से सेवा की जा सकती है।

Read More

Recent