HomeFaridabadदेश में पहली बार फरीदाबाद में बनी अनोखे ईंधन से चलने वाली...

देश में पहली बार फरीदाबाद में बनी अनोखे ईंधन से चलने वाली गाड़ी, मिली मंजूरी

Published on



डॉ. एसएसवी रामाकुमार, निदेशक, इंडियनऑयल(अनुसंधान एवं विकास) ने आईआईटी-दिल्ली में एक अभिनव त्रिपक्षीय परियोजना के सहयोगियों को एक साथ लाने वाले एक कार्यक्रम में; डॉ. श्रीवरी चंद्रशेखर, सचिव, डीएसटी (भारत सरकार), श्री कृष्णन सदगोपन, वरिष्ठ उपाध्यक्ष, अशोक लीलैंड और प्रो. रंगन बनर्जी, निदेशक, आईआईटी दिल्ली के साथ संयुक्त रूप से एक फ्लेक्स-फ्यूल वाहन (दोस्त) को झंडी दिखाकर रवाना किया ।

वायु प्रदूषण की चुनौती को हल करने और एक स्वच्छ और नवीकरणीय ईंधन विकल्प की पेशकश करने के लिए, इंडियनऑयल आरएंडडी ने एक फ्लेक्स ईंधन डीजल में 30 प्रतिशत डाइमिथाइल ईथर (डीएमई) के सम्मिश्रण की व्यवहार्यता को विकसित करने और प्रदर्शित करने के लिए आईआईटी-दिल्ली और अशोक लीलैंड लिमिटेड के अशोक लीलैंड ऑटोमोटिव व्हीकल (दोस्त) के साथ सहयोग किया है। इस शोध परियोजना को विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा वित्त पोषित किया जा रहा है।

देश में पहली बार फरीदाबाद में बनी अनोखे ईंधन से चलने वाली गाड़ी, मिली मंजूरी



इस अवसर पर बोलते हुए, डॉ. रामाकुमार ने कहा, “डाई -मिथाइल ईथर वाहनों से पार्टिकुलेट मैटर (कणिका तत्व) उत्सर्जन को दूर करने के लिए सबसे अच्छे समाधानों में से एक होने का वादा करता है। यह डीजल के साथ सम्मिश्रण के मामले में लचीलापन और सामर्थ्य प्रदान करता है। इंडियनऑयल आरएंडडी डीएमई का डीजल और एलपीजी में सम्मिश्रण पर काम कर रहा है। हम कैलोरी मान के नुकसान की खाई को पाटने और मिश्रित ईंधन की प्रभावशीलता को बढ़ाने के लिए नैनो-कण समाधानों के साथ भी तैयार हैं।

डीएमई कम्प्रेशन इग्निशन इंजन वाहनों के लिए एक वैकल्पिक ईंधन है और इसमें सीटेन संख्या (55-58) पारंपरिक डीजल (51) की तुलना में अधिक है। हमारे शोध में पाया गया है कि डीएमई-डीजल संचालित वाहन बिना दस्तक दिए अनूकूलतम ऊर्जा हिस्सेदारी के साथ संचालित होता है, NOx और धुएं के उत्सर्जन में काफी कमी आती है और ईंधन की अर्थव्यवस्था में उचित सुधार होता है। उन्होंने कहा कि इस प्रदर्शन परियोजना को जो विशिष्ट बनाता है वह यह है कि वाहन या तो 100% डीजल या डीएमई मिश्रित डीजल पर चल सकता है और इसलिए इसे एक लचीला वाहन या फ्लेक्स-वाहन कहा जाता है।

देश में पहली बार फरीदाबाद में बनी अनोखे ईंधन से चलने वाली गाड़ी, मिली मंजूरी




स्वच्छ ईंधन की क्षमता और वादे को प्रदर्शित करने के लिए, एक डीजल वाहन (दोस्त) को दोहरे ईंधन मोड (डीएमई-डीजल) पर चलाने के लिए परिवर्तित किया गया है। आईआईटी दिल्ली द्वारा दोहरे ईंधन मोड के तहत डीएमई के उपयोग के लिए इंजन प्रौद्योगिकी विकसित की गई है। इंडियनऑयल आरएंडडी ने सहनशीलता और क्षेत्र परीक्षण परीक्षण किए हैं और अशोक लीलैंड लिमिटेड के तकनीकी समर्थन के साथ विशेष इंजन ऑयल भी विकसित किया है। दोस्त वाहन में डीएमई ईंधन निकालने के लिए इंडियनऑयल आरएंडडी में एक पोर्टेबल डीएमई डिस्पेंसिंग स्टेशन भी विकसित किया गया है। डीएमई-डीजल द्वारा संचालित इस वाहन पर 10,000 किमी तक का सीमित क्षेत्र परीक्षण पूरा किया जा चुका है।


डीएमई ईथर परिवार (CH3-O-CH3) से संबंधित है और इसे गैसीकरण और फिशर-ट्रॉप्स संश्लेषण प्रक्रिया के माध्यम से कोयले या बायोमास से उत्पादित किया जा सकता है। यह मेथनॉल के उत्प्रेरक निर्जलीकरण के माध्यम से भी उत्पादित किया जा सकता है। डीएमई को तरल या गैस के रूप में संग्रहित किया जा सकता है। भारत अपने प्रचुर कोयला भंडार और अखाद्य बायोमास का उपयोग मेथनॉल और फिर डीएमई का उत्पादन करने के लिए कर सकता है। यह हरित ईंधन देश में ऊर्जा सुरक्षा हासिल करने के लिए गेम-चेंजर हो सकता है ।



देश में पहली बार फरीदाबाद में बनी अनोखे ईंधन से चलने वाली गाड़ी, मिली मंजूरी

Latest articles

Faridabad में गलियां हुई नालों मे तब्दील, आखिर कब तक रहेगा ये हाल?

फरीदाबाद में गाँव गौन्छी का बेहद बुरा हाल है। यहाँ गलियों का निर्माण किया...

फरीदाबाद में सूरजकुंड मेले का ज़ोरोशोरो से हुई शुरुआत, उपराष्ट्रपति ने किया शुभारंभ

सूरजकुंड (फरीदाबाद), 3 फरवरी। महामहिम उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने 36वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेला-2023...

विधायक नीरज शर्मा के एनआईटी विधानसभा के वार्ड 9 शुरू हुआ करोड़ों का विकास

आज एनआईटी विधानसभा के वार्ड-9 में करोडो रू के विकास कार्यो का शुभारभ्ंा किया...

फरीदाबाद का ये शहर दिखने वाला है कुछ अलग, किये जायेंगे करोड़ों रुपये खर्च, होगा बदलाव

फरीदाबाद में तमाम जगहों पर जाम की स्थिति देखी जाती है परंतु प्रशासन द्वारा...

More like this

Faridabad में गलियां हुई नालों मे तब्दील, आखिर कब तक रहेगा ये हाल?

फरीदाबाद में गाँव गौन्छी का बेहद बुरा हाल है। यहाँ गलियों का निर्माण किया...

फरीदाबाद में सूरजकुंड मेले का ज़ोरोशोरो से हुई शुरुआत, उपराष्ट्रपति ने किया शुभारंभ

सूरजकुंड (फरीदाबाद), 3 फरवरी। महामहिम उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने 36वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेला-2023...

विधायक नीरज शर्मा के एनआईटी विधानसभा के वार्ड 9 शुरू हुआ करोड़ों का विकास

आज एनआईटी विधानसभा के वार्ड-9 में करोडो रू के विकास कार्यो का शुभारभ्ंा किया...