HomeFaridabadफरीदाबाद निगम का एक और अजीब कारनामा, कहीं सुना है अप्रैल में...

फरीदाबाद निगम का एक और अजीब कारनामा, कहीं सुना है अप्रैल में पौधारोपण ?

Published on

फरीदाबाद में प्रदूषण फैला हुआ है कि कई बार लोगों को सांस लेना भी मुश्किल हो जाता है।अगर बात करें पर्यावरण की तो फरीदाबाद में काफी इंडस्ट्रियल कंपनियां है।जिसकी वजह से प्रदूषण का सामना करना पड़ता है तो वहीं कई किसान पराली जला देते हैं जिसकी वजह से काफी प्रदूषण हो जाता है।ऐसे में सिर्फ पौधे ही हैं जो हमारे पर्यावरण को काफी संभाल कर रखते हैं स्वस्थ बनाकर रखते हैं।


केंद्र सरकार ने देश के 102 शहरों को राष्ट्रीय क्लीन एयर प्रोग्राम के तहत चुना है। जिसमें फरीदाबाद भी शामिल है।प्रदूषण जिस से कम करने के लिए होने वाले काम पर सारा खर्चा केंद्र सरकार देगी। केंद्र सरकार ने इसके लिए ₹40 करोड़ मंजूर किए हैं।
इनमें से ₹20 करोड़ के काम शहर में हो रहे हैं।

फरीदाबाद निगम का एक और अजीब कारनामा, कहीं सुना है अप्रैल में पौधारोपण ?

इन्हीं कामों में पौधारोपण भी शामिल है। निगम ने एक प्राइवेट कंपनी के शहर में 90 हज़ार पौधे लगाने का काम सौंपा है जो 2 साल तक पौधों को रखरखाव का काम भी करेगी कंपनी ने 30 हज़ार पौधे और 7000 झाड़ीया लगाने का काम शुरू कर दिया है। जिन सड़कों को चौड़ा किया जाना है कंपनी वही पौधारोपण कर रही हैं। दयानंद कॉलेज से आगे पांच नंबर की तरफ आने वाली रोड भी चौड़ी की जानी है और कंपनी ने इस पर भी पौधे लगा दिए हैं।

फरीदाबाद निगम का एक और अजीब कारनामा, कहीं सुना है अप्रैल में पौधारोपण ?


ऐसे में ठेकेदार जब सड़क पर काम शुरू करेगा तो फिर पौधे हटाने पड़ेंगे पौधे लगाने का सही मौसम बरसात का होता है क्योंकि उन्हें हर वक्त पानी मिलता रहता है।इस वक्त शहर का तापमान 40 से पार पहुंच रहा है। जिसमें पौधों कल जिंदा रहना काफी मुश्किल है।एजेंसी के लगाए पौधे पानी ना मिलने की वजह से सूख रहे हैं बता दे कि गर्मी लगातार बढ़ती जा रही है।

फरीदाबाद निगम का एक और अजीब कारनामा, कहीं सुना है अप्रैल में पौधारोपण ?


फरीदाबाद का पारे की बात करें तो वह भी 40 बार हो चुका है। बुधवार को भी अधिकतम तापमान 42 डिग्री रहा इसके बावजूद नगर निगम की हॉर्टिकल्चर ब्रांच शहर में पौधे लगा रही है।निगम में 90 हजार पौधे लगाने के लिए एक प्राइवेट एजेंसी को काम सौंपा है।पर्यावरण प्रेमियों ने सवाल उठाया है कि इस गर्मी में यह पौधे सूख जाएंगे पौधारोपण बरसात में किया जाना चाहिए। एजेंसी सड़कों के किनारे पौधे लगा रही है। जबकि कुछ सड़कों को चौड़ा किया जाना है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...