HomeFaridabadस्मार्ट सिटी फरीदाबाद में नहीं हो रहा स्मार्ट वर्क, IAS अधिकारी से...

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में नहीं हो रहा स्मार्ट वर्क, IAS अधिकारी से लेकर इंजीनियर सब हुए फेल

Published on

फरीदाबाद शहर को स्मार्ट बनाने के लिए स्मार्ट सिटी बनाया गया है लेकिन जब स्मार्ट सिटी में ही स्मार्ट काम नही हो रहा हो तो फिर कैसे शहर की व्यवस्था स्मार्ट होगी । पूरा शहर इस समय पानी के लिए त्राहि त्राहि मचा रहा है लेकिन उसके बाद भी अभी तक पानी के समान बटबारे के लिए स्काडा सिस्टम ( सुपरवाइजरी कंट्रोल एंड डाटा एक्विजिशन ) का कार्य अभी तक पुरा नही हो पाया है । इस वजह से पानी का सही बटवारा नहीं हो पा रहा है

कही पर ज्यादा पानी पहुंच रहा है तो कही पर कई दिनों तक लोगों के घरों में पानी नहीं पहुंच रहा है फरीदाबाद स्मार्ट सिटी का कार्य इतनी धीमी गति से चल रहा है कि साल भर पहले स्काडा प्रोजेक्ट को शुरू किया गया था लेकिन अभी तक इस प्रोजेक्ट का कार्य पूरा नहीं हुआ है जिसके कारण शहर में पानी की दिक्कत बढ़ने लगी है हालांकि अभी मौसम में गर्मी का है जिसमें पानी की खपत अधिक होती है।

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में नहीं हो रहा स्मार्ट वर्क, IAS अधिकारी से लेकर इंजीनियर सब हुए फेल

वही स्मार्ट सिटी के अधिकारी अब अपना पल्ला झाड़ते हुए एफएमडीए की आड़ ले रहे हैं उनका कहना है कि पहले एफएमडीए से शट डाउन के बाद ही सेंसर लगाए जाएंगे परंतु परंतु जिस हिसाब से यह कार्य चल रहा है उसे देखते हुए लगता है कि यह प्रोजेक्ट गर्मियों के बाद ही पूरा होने की संभावना है

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में नहीं हो रहा स्मार्ट वर्क, IAS अधिकारी से लेकर इंजीनियर सब हुए फेल

जैसे ही शहर में गर्मी आती है वैसे ही फरीदाबाद शहर को पानी की दिक्कत का सामना करना पड़ता है तीन लाख आबादी वाले इस शहर को रोजाना 450 एमएलडी पानी की आवश्यकता होती है लेकिन नगर निगम 325 ही एमएलडी पानी उपलब्ध करा पाता है अन्यथा जितना पानी नगर निगम उपलब्ध कराता है वह पूरे शहर के लिए पर्याप्त नहीं है

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में नहीं हो रहा स्मार्ट वर्क, IAS अधिकारी से लेकर इंजीनियर सब हुए फेल

और इसके बाद भी इस पानी का समान रूप से बटवारा नहीं हो पा रहा है जिसके कारण कहीं पर अधिक मात्रा में पानी पहुंच रहा है तू कहीं पर लोग इस पानी ना पहुंचने से परेशान हो गए हैं कहीं पर लोग बूस्टिंग के जरिए अपने इलाके में अधिक पानी छुड़वा लेते हैं तो कहीं इलाकों में पानी कम पहुंचता है तो कहीं रेनीवाल की मोटर खराब होती है इन सब को देखते हुए स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में 20 21 मई को एक एजेंसी में स्काडा का काम सौंपा था

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में नहीं हो रहा स्मार्ट वर्क, IAS अधिकारी से लेकर इंजीनियर सब हुए फेल

काम में देरी होने के कारण इस एजेंसी पर एक करोड़ का जुर्माना भी लगाया जा चुका है उसके बावजूद भी यह प्रोजेक्ट अभी तक पूरा नहीं हुआ है फरीदाबाद स्मार्ट सिटी के डीजीएम अरविंद कुमार ने बताया कि इस कोटा के माध्यम से रेनीवाल की लाइनों पर सेंसर लगाए जानेंगे जिसके लिए शटडाउन करना होगा इसके लिए एफएमडीएसएस इजाजत लेनी होगी साथ ही गर्मियों में लाइन को बंद नहीं किया जा सकता इसके कारण भी काम में देरी हो रही है

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...