HomeFaridabadखुशखबरी : फरीदाबाद के ईएसआईसी हॉस्पिटल में होंगे न्यूरो ऑपरेशन, नही काटने...

खुशखबरी : फरीदाबाद के ईएसआईसी हॉस्पिटल में होंगे न्यूरो ऑपरेशन, नही काटने पड़ेंगे निजी अस्पतालों के चक्कर

Published on


फरीदाबाद में ईएसआई मेडिकल कॉलेज और सरकारी अस्पताल है। जहां पर लोगों को कंपनियों की तरफ से कार्ड बनाए जाते हैं। इन कार्ड का काफी फायदा मिलता है। अब ईएसआईसी कार्ड धारकों के लिए राहत भरी खबर सामने आ रही है।काफी लोगों को जहां पर काफी परेशानियां उठानी पड़ती है लेकिन अब एक राहत भरी खबर जो कि यह ईएसआईसी के कार्ड धारकों के लिए सामने आ रही है।

दिमागी बीमारी का सामना कर रहे लोगों को अब ऑपरेशन के लिए निजी अस्पतालों में जाने की जरूरत नहीं है। ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में ही न्यूरो सर्जरी हो सकेगी।ईएसआई मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में इसके लिए चार न्यूरो सर्जन भी भर्ती की गई है।

खुशखबरी : फरीदाबाद के ईएसआईसी हॉस्पिटल में होंगे न्यूरो ऑपरेशन, नही काटने पड़ेंगे निजी अस्पतालों के चक्कर

करीब 2 माह में इसके लिए जर्मनी से मशीनें मंगाई जाएंगी और उन्हें स्थापित कर दी जाएगी। इसके बाद ऑपरेशन शुरू कर दिए जाएंगे जिले में करीब 6.5 लाख एस आई कार्ड धारक हैं ।

खुशखबरी : फरीदाबाद के ईएसआईसी हॉस्पिटल में होंगे न्यूरो ऑपरेशन, नही काटने पड़ेंगे निजी अस्पतालों के चक्कर


यहां ना केवल फरीदाबाद बल्कि पलवल हथीन होटल सोनीपत गोहाना रेवाड़ी इत्यादि जिलों से करीब 3000 से अधिक लोग रोजाना इलाज के लिए पहुंचते हैं। यहां आने के बाद उन्हे कई परेशानी उठानी पड़ती है।इस दौरान जब उन्हें था आकर सुविधा नहीं मिल पाती तो भाग दौड़ के बीच समय ज्यादा लगता है और इस बीच उनकी जान जाने का खतरा भी बन जाता है। कभी कबार निजी अस्पतालों के ईएसआई के मरीजों से व्यवहार भी ठीक नहीं किया जाता है।निजी अस्पतालों के ऐसे कई मामले पहले सामने आ चुके हैं ।

खुशखबरी : फरीदाबाद के ईएसआईसी हॉस्पिटल में होंगे न्यूरो ऑपरेशन, नही काटने पड़ेंगे निजी अस्पतालों के चक्कर


इन परेशानियों को देखते हुए कॉलेज प्रबंधन ने अस्पताल परिसर में न्यूरो सर्जरी शुरू करने की योजना बनाई है। ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज में न्यूरो सर्जरी सेंटर दिल्ली की तर्ज पर स्थापित किया जाएगा। इसके लिए जर्मनी से अत्याधुनिक तकनीकी मशीनें लगाई गई है। यहां जांच के साथ ऑपरेशन तक की पूरी सुविधा है। एम्स की तर्ज पर न्यूरो सर्जरी सेंटर स्थापित करने के लिए मशीनें जर्मनी से मंगाई गई है।अत्याधुनिक तकनीक से लैस मशीनों से ऑपरेशन में काफी सहायता मिलेगी इससे मरीजों को निजी अस्पतालों में लेफ्ट बंद हो जाएगा।उन्हें एक ही छत के नीचे पूरा इलाज मिल सकेगा।

खुशखबरी : फरीदाबाद के ईएसआईसी हॉस्पिटल में होंगे न्यूरो ऑपरेशन, नही काटने पड़ेंगे निजी अस्पतालों के चक्कर


डॉक्टर अनिल पांडे रजिस्ट्रार ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज ने बताया कि कार्ड धारकों को अस्पताल में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए ईएसआईसी प्रयास रक्त है। कैथल के बाद अब दिमागी ऑपरेशन की सुविधा शुरू की जाएगी।

Latest articles

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

Haryana के इस शख्स ने किया Bollywood के सुपरस्टार ऋतिक रोशन के साथ काम, इससे पहले भी कर चुके है कई फिल्मों में काम

प्रदेश के युवा या बुजुर्ग सिर्फ़ खेल या शिक्षा के मैदान में ही तरक्की...

More like this

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...