Online se Dil tak

अब मिलेगी काम की शाबाशी, हर महीने अच्छा काम करने वाले बस कंडक्टर चुनेगा रोडवेज

हरियाणा रोडवेज के फरीदाबाद डिपो में बेहतर काम करने वाले कंडक्टरों को प्रोत्साहित करने के लिए हर सप्ताह टॉप 10 कर्मचारियों का चयन कर उनका नाम बोर्ड पर अंकित किया जाएगा, साथ ही साल में रिव्यू कर पुरस्कार भी दिया जाएगा। हरियाणा रोडवेज में हो रहे घाटे से बचने के लिए इस स्कीम का आयोजन हो रहा है । इसके तहत हर सप्ताह आयोजित रूट का अलंकन किया जाएगा।

हर सप्ताह बस कंडक्टर रो का चयन किया जाएगा यदि यह कंडक्टर छुट्टी भी नहीं लेंगे तो उन्हें 15 अगस्त और 26 जनवरी को सम्मानित भी किया जाएगा। बेहतर राजस्व देने वाले सभी कंडक्टर रोको पुरस्कार भी दिया जाएगा जैसे कि इस सप्ताह में अपना राजस्व दिखाने वाले कुछ कंडक्टर रो के नाम इस प्रकार है:

अब मिलेगी काम की शाबाशी, हर महीने अच्छा काम करने वाले बस कंडक्टर चुनेगा रोडवेज
अब मिलेगी काम की शाबाशी, हर महीने अच्छा काम करने वाले बस कंडक्टर चुनेगा रोडवेज

जैसे कि मक्खन लाल आगरा रूट के महेश, हमीरपुर रूट के हरि ओम , हल्द्वानी रूट के गगनदीप, जयपुर रूट के सुनील, अमृतसर रूट के राजेंद्र , धर्मशाला रूट के सुधीर, बैजनाथ रूट के नवनीत, चंडीगढ़ रूट के देवेंद्र और बालाजी रूट के देवराज को चुना गया है।

अब मिलेगी काम की शाबाशी, हर महीने अच्छा काम करने वाले बस कंडक्टर चुनेगा रोडवेज
अब मिलेगी काम की शाबाशी, हर महीने अच्छा काम करने वाले बस कंडक्टर चुनेगा रोडवेज

डिपो के ट्रैफिक मैनेजर नवनीत बजाज ने बताया कि बेहतर राजस्व देने वालों को उनकी वार्षिक रिपोर्ट में भी जिक्र किया जाएगा, ताकि अन्य कंडक्टर भी इनसे प्रेरि होकर अच्छा काम करें।

हस्ताक्षर अभियान चलाकर पूछा निजी बस सेवा चाहिए या रोडवेज

निजीकरण के विरोध में हरियाणा रोडवेज वर्कर यूनियन ने हस्ताक्षर अभियान शुरू किया है, जिसमें यात्रियों से हस्ताक्षर करवाकर यह पूछा जा रहा है उनको प्राइवेट बस सेवा चाहिए या हरियाणा रोडवेज की।

अब मिलेगी काम की शाबाशी, हर महीने अच्छा काम करने वाले बस कंडक्टर चुनेगा रोडवेज
अब मिलेगी काम की शाबाशी, हर महीने अच्छा काम करने वाले बस कंडक्टर चुनेगा रोडवेज

बुधवार को 150 लोगों से हस्ताक्षर कराए गए। यूनियन से संबंधित सर्व कर्मचारी संघ के प्रधान रविंद्र नागर ने कहा कि हरियाणा रोडवेज की बसों की संख्या कम होती जा रही है, जिसकी वजह से यात्रियों को सफर करने के लिए प्राइवेट बसों का सहारा लेना पड़ता है। हर साल रोडवेज की बसें खराब होती जा रही हैं।

Read More

Recent