Online se Dil tak

आखिर कहां सो गई सरकार ,रोजाना ना जाने हो रहे कितने अपराध

सीएम फ्लाइंग और बिजली कर्मचारियों की टीम ने शुक्रवार को चावला कॉलोनी में एक पीजी पर छापेमारी की, जिसमें बिजली चोरी कर रहे मालिक के खिलाफ कार्रवाई की गई। टीम ने करीब करीब 9 किलोवाट की बिजली चोरी पकड़ी है।
डीएसपी राजेश चेची के नेतृत्व में सब इंस्पेक्टर सतवीर सिंह, राजेंद्र सिंह, एएसआई सतीश और एएसआई प्रभुदयाल ने बोहरा पब्लिक स्कूल का के निकट पीजी संचालक पर यह कार्रवाई शिकायत मिलने पर की। वहीं एनआईटी-3 ई के एक मकान में बिजली लोड बढ़ा हुआ मिला।

मकान मालिक ने नौ किलोवॉट का मीटर लगवाया था, लेकिन मौके पर 14 किलोवॉट बिजली खपत मिली। सीएम फ्लाइंग अधिकारी सब-इंस्पेक्टर सत्यवीर सिंह ने बताया कि दोनों मामलों में जुर्माना बिजली विभाग लगाएगा।

आखिर कहां सो गई सरकार ,रोजाना ना जाने हो रहे कितने अपराध
आखिर कहां सो गई सरकार ,रोजाना ना जाने हो रहे कितने अपराध

पीजी के नाम पर लोग धंधा करते है

हाल ही में पीजी का एक और केस सामने आया था। जिसमे की एक मकान मालिक बाकी पीजी के मुकाबले आधा किराया लेने का झांसा दे कर गर्ल्स पीजी चलता था ।
शिकायत में बताया गया है की वह बाथरूम के शावर में कैमरा लगा कर रखता था और लड़कियों को नहाते हुए देखता था ।

आखिर कहां सो गई सरकार ,रोजाना ना जाने हो रहे कितने अपराध
आखिर कहां सो गई सरकार ,रोजाना ना जाने हो रहे कितने अपराध

एक दिन एक लकड़ी शावर लेने के लिए बाथरूम में गई , शावर में पानी न आता देख उसने शावर को ठीक करने की कोशिश की तो पता लगा की उसमे कैमरा लगाया हुआ है ।


पुलिस को शियक्त दर्ज कर दी गई । उसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंच कर छानबीन शुरू करें तो पता चला की वह कैमरे का लाइव सीसीटीवी फुटेज वही साइड में एक लैब में देखता रहता था जहां पर किसी का भी आना जाना वर्जित था ।

आखिर कहां सो गई सरकार ,रोजाना ना जाने हो रहे कितने अपराध
आखिर कहां सो गई सरकार ,रोजाना ना जाने हो रहे कितने अपराध

केवल इतना ही नही वहां पर लड़कियों के कुछ कपड़े भी मिले जिनसे आशंका जताई जा रही है कि वह लड़कियों का रेप भी करता था ।

आखिर कहां सो गई सरकार ,रोजाना ना जाने हो रहे कितने अपराध
आखिर कहां सो गई सरकार ,रोजाना ना जाने हो रहे कितने अपराध



ऐसे में जनता की पुलिस से दरखास्त है कि वह ऐसे मुजरिमों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाने में जनता की और लड़कियों की मदद करें ऐसे दुष्ट कर्मियों को जल्द से जल्द पकड़ना ही होगा।

Read More

Recent