Online se Dil tak

बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के

बाईपास से राष्ट्रीय राजमार्ग को जोड़ने वाली कई प्रमुख सड़कों का निर्माण चल रहा है। सबसे कम काम वाईएमसीए वाली सड़क पर हुआ है। सड़क का काफी हिस्सा खोदा हुआ है। इस वजह से आवागमन प्रभावित हो रहा है। इसे पूरा होने में कम से कम दो महीने लगेंगे। उधर, मौसम विभाग ने इसी महीने 17 जून व इसके बाद प्री मानसून की कई वर्षा होने की संभावना जाहिर की है।

इसे देखते हुए शहरवासी चितित है। यदि वर्षा हुई तो सबसे अधिक परेशानी इसी निर्माणाधीन सड़क पर होगी। कुछ दिन पहले हुई वर्षा में इसकी बानगी देखी जा चुकी है। सड़क का निर्माण एफएमडीए द्वारा कराया जा रहा है। अधिकारियों की लापरवाही ये है कि सड़क निर्माण शुरू करते समय यह ध्यान में नहीं रखा गया कि मानसून भी आने वाला है।

बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के
बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के

अन्य निर्माणाधीन सड़कों का काम भी पूरा नहीं हो सका है। कई सेक्टरों की है कनेक्टिविटी राष्ट्रीय राजमार्ग किनारे जेसी बोस वाईएमसीए यूनिवर्सिटी की बगल से जाने वाली यह सड़क बाईपास से कनेक्ट है। बीच में सेक्टर-7-10 की मार्केट आती है। जहां सुबह-शाम काफी लोग खरीदारी करने आते हैं। इसी सड़क से सेक्टर-7 की मार्केट जाते हैं।

बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के
बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के

सेक्टर-10 होते हुए जिला अदालत भी जा सकते हैं, आगे सेक्टर-9 की मार्केट सहित ईएसआइ और सर्वोदय अस्पताल सेक्टर-8 जाते हैं। सड़क किनारे सेक्टर-8 का थाना और परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा का कार्यालय भी है। दो निजी अस्पताल भी हैं। एक भी सड़क का काम पूरा नहीं है ।

एफएमडीए द्वारा एक साथ कई सड़कों का निर्माण शुरू कर दिया है। इनमें सेक्टर-11-12 को बांटने वाली कोर्ट रोड, सेक्टर-15ए-16ए को बांटने वाली मैगपाई वाली रोड, मेट्रो अस्पताल के सामने वाली रोड शामिल है। इसलिए शहरवासियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के
बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के

अभी तक एक भी सड़क का काम पूरा नहीं हो सका है। बेशक सड़क बन गई है, लेकिन डिवाइडर से लेकर किनारे तक कोई भी काम पूरा नहीं है। स्थानीय विधायक नरेंद्र गुप्ता सड़क निर्माण की धीमी चाल को लेकर नाराजगी जता चुके हैं।

लेकिन शायद अधिकारियों पर कोई असर नहीं दिखाई दे रहा है। वाईएमसीए वाली काफी महत्वपूर्ण सड़क है। इसका निर्माण जल्द पूरा होना चाहिए। दो बड़े अस्पताल इसी सड़क के किनारे हैं। हजारों मरीजों का रोज आवागमन होता है।

बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के
बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के

इमरजेंसी में मरीजों को अस्पताल तक पहुंचने में परेशानी हो रही है। दिनभर धूल उड़ती रहती है। वर्षा से पहले हर हालत में सड़क का निर्माण पूरा होना जरूरी है।

राजकुमार अग्रवाल, प्रोजेक्ट चेयरमैन डा. सूरज प्रकाश आरोग्य केंद्र। सड़क निर्माण धीमी गति व बेतरतीब तरीके से चल रहा है। इसकी अभी तक केवल एक साइड ही तैयार हो सकी है। दूसरी साइड की खोदाई कर दी है। अगर वर्षा हो गई तो हालात खराब हो जाएंगे। इसलिए अधिकारियों से आग्रह है कि सड़क जल्द बनवाएं और अधिकारी इसकी निगरानी जरूर करते रहें।

बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के
बिना प्लानिंग के होता है काम, मानसून को बिना ध्यान में रखे खोद दी फरीदाबाद की सड़के

कैलाश शर्मा, अध्यक्ष मानव सेवा समिति। हमारी पूरी कोशिश है कि सड़क का निर्माण 30 जून तक पूरा कर लिया जाए। दाएं-बाएं काम रह जाएगा, वह बाद में किया जा सकता है। इसलिए कंस्ट्रक्शन कंपनी को इस बाबत निर्देश दे दिए गए हैं। इस काम की निगरानी भी की जा रही है।

Read More

Recent