Online se Dil tak

18 महीने से 54 कर्मचारियों को नहीं मिला वेतन, फरीदाबाद नगर निगम पर उठ रहे हैं सवाल


फरीदाबाद में नगर निगम के ऊपर आर्थिक संकट पहले से ही है परन्तु अब और बढ़ गई है। बता दें जिले के 24 गांव में लगे ऑपरेटर और चौकीदार भी नगर निगम के अधीन आ गए हैं लेकिन उन्हें करीब 18 माह से वेतन नहीं मिल रहा है कर्मचारी इसकी शिकायत उपायुक्त व नगर निगम आयुक्त से कर चुके हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

इससे कर्मचारियों को परेशानी हो रही है ट्यूबवेल ऑपरेटर सतीश यादव गौरव कुमार कर्मवीर और राम प्रकाश ने बताया कि जनवरी 2021 में जिले के 24 गांव नगर निगम में शामिल हो गए हैं उन गांव में पंचायत विभाग द्वारा ट्यूबवेल ऑपरेटर मालि कम चौकीदार को नियुक्त किया गया था ।

18 महीने से 54 कर्मचारियों को नहीं मिला वेतन, फरीदाबाद नगर निगम पर उठ रहे हैं सवाल
18 महीने से 54 कर्मचारियों को नहीं मिला वेतन, फरीदाबाद नगर निगम पर उठ रहे हैं सवाल

पहले वेतन पंचायती विभाग द्वारा दिया जाता था लेकिन अब वेतन नगर निगम के द्वारा दिया जाएगा।

लगभग 18 महीने से  24 गांव में लगे 54 कर्मचारियों को नगर निगम में शामिल होने के बाद से ही वेतन नहीं मिला है जिससे कर्मचारियों को परिवार का पालन पोषण करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है इस समस्या को लेकर सभी ट्यूबवेल ऑपरेटर और चौकीदारों द्वारा कई बार नगर निगम आयुक्त व जिला उपायुक्त को समस्या से अवगत कराया जा चुका है लेकिन वेतन जारी नहीं किया गया है

18 महीने से 54 कर्मचारियों को नहीं मिला वेतन, फरीदाबाद नगर निगम पर उठ रहे हैं सवाल
18 महीने से 54 कर्मचारियों को नहीं मिला वेतन, फरीदाबाद नगर निगम पर उठ रहे हैं सवाल

बता दें 5 मई 2022 को शहरी स्थानीय निकाय विभाग पंचकूला द्वारा एक पत्र जारी किया गया है जिसमें सूचित किया है कि 24 गांव जोकी नगर निगम में शामिल हुए हैं इन गांव में लगे कर्मचारियों को खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी की रिपोर्ट अनुसार डीसी रेट पर और ट्यूबवेल ऑपरेटर को पार्ट टाइम लगाया गया था

ग्राम पंचायत में किसी भी कर्मचारी को नियमित तौर पर नहीं लगाया गया था ना ही नियमित नियुक्ति पत्र जारी किया गया था उपायुक्त जितेंद्र यादव का कहना है कि नगर निगम में शामिल होने के बाद गांव में लगे कर्मचारियों का वेतन नगर निगम के द्वारा जारी किया जाएगा।

Read More

Recent