HomeFaridabadफरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10...

फरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10 हजार का स्टाफ होगा तैनात

Published on

भारत का सबसे बड़ा निजी क्षेत्र का 133 एकड़ भूमि में फैला अमृता अस्पताल (India’s largest private sector hospital Amrita) अगस्त 2022 में फरीदाबाद में खुलने के लिए पूरी तरह से तैयार है। यह अस्पताल 2,400 बिस्तरों वाला होगा। यह कोच्चि, केरल में प्रतिष्ठित 1,200 बिस्तरों वाले अमृता अस्पताल के बाद देश का दूसरा बड़े पैमाने का अमृता अस्पताल होगा, जिसे 25 साल पहले माता अमृतानंदमयी मठ द्वारा स्थापित किया गया था। सेक्टर-88, फरीदाबाद में फैली सुविधा का कुल निर्मित क्षेत्र 1 करोड़ वर्ग फुट होगा, जिसमें एक 14 मंजिल ऊंचा टॉवर शामिल होगा, जो प्रमुख चिकित्सा सुविधाओं और रोगी क्षेत्रों को शामिल करेगा।

अस्पताल की 81 विशिष्टताओं में ऑन्कोलॉजी, कार्डियक साइंस, न्यूरोसाइंसेस, गैस्ट्रो-साइंसेस, रीनल साइंस, हड्डी रोग और स्ट्रोक, ट्रांसप्लांट और मां व बच्चे जैसे उत्कृष्टता के आठ केंद्र शामिल होंगे। इस साल अगस्त में 500 बिस्तरों के खुलने के साथ ही अस्पताल चरणों में चालू किया जाएगा।

फरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10 हजार का स्टाफ होगा तैनात

बता दें कि दो वर्षों में, यह संख्या बढ़कर 750 बिस्तरों और पांच वर्षों में 1,000 बिस्तरों तक हो जाएगी। पूरी तरह से चालू होने पर अस्पताल में 800+ डॉक्टरों सहित 10,000 लोगों का स्टाफ तैनात होगा।

फरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10 हजार का स्टाफ होगा तैनात

अमृता अस्पताल, फरीदाबाद के चिकित्सा निदेशक डॉ. संजीव के सिंह ने कहा कि “यह वास्तव में एक विश्व स्तरीय संस्थान होगा, जैसा कि देश ने पहले नहीं देखा है, दोनों पैमाने यानी परिमाण के साथ-साथ चिकित्सा उत्कृष्टता के मामले में भी। पूरी तरह से चालू होने पर अस्पताल में कुल 2,400 बेड होंगे, जिसमें 534 क्रिटिकल केयर बेड शामिल हैं, जो भारत में सबसे अधिक हैं।

फरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10 हजार का स्टाफ होगा तैनात

64 मॉड्यूलर ऑपरेशन थिएटर, सबसे उन्नत इमेजिंग सेवाएं, पूरी तरह से स्वचालित रोबोट प्रयोगशाला, उच्च-सटीक विकिरण ऑन्कोलॉजी, सबसे अद्यतन परमाणु चिकित्सा और नैदानिक सेवाओं के लिए अत्याधुनिक 9 कार्डियक और इंटरवेंशनल कैथ लैब भी होंगे।

फरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10 हजार का स्टाफ होगा तैनात

अत्याधुनिक चिकित्सा अनुसंधान एक मजबूत क्षेत्र होगा, जिसमें 7-मंजिल की इमारत में फैले एक समर्पित अनुसंधान ब्लॉक के साथ कुल 3 लाख वर्ग फुट में विशेष ग्रेड A से D जीएमपी प्रयोगशाला के साथ नए डायग्नोस्टिक मार्कर, एआई, एमएल, की पहचान करने और जैव सूचना विज्ञान आदि पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। अस्पतालों और विश्वविद्यालयों सहित चिकित्सा विज्ञान में दुनिया के कुछ सबसे बड़े नामों के साथ अनुसंधान सहयोग में प्रवेश करने की प्रक्रिया में हैं।

फरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10 हजार का स्टाफ होगा तैनात

डॉ. सिंह ने कहा कि महामारी के साथ देश के कष्टदायक अनुभव को देखते हुए, संक्रामक रोगों से निपटने के लिए अस्पताल में देश की सबसे बड़ी सुविधा होगी। महिलाओं और बच्चों का स्वास्थ्य सबसे पहले आता है, और अस्पताल में एक पूरी मंजिल (1.5 लाख वर्ग फुट) होगी, जो कि मां और बच्चे की देखभाल, भ्रूण और प्रजनन देखभाल और उच्च जोखिम वाली प्रसूति के लिए समर्पित होगी। इसमें नर्सरी और नवजात गहन देखभाल की 40 बिस्तर इकाई होगी।

इन बॉडी पार्ट्स का भी होगा ट्रांसप्लांट

फरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10 हजार का स्टाफ होगा तैनात

बता दें कि यह सुविधा भारत के सबसे बड़े बाल चिकित्सा सुपर-स्पेशियलिटी सेंटर का दावा करेगी। एक व्यापक ट्रांसप्लांट कार्यक्रम में भी भारी निवेश करेंगे, जो देश में सबसे बड़ा होगा। कोच्चि में अमृता अस्पताल द्वारा अग्रणी, हैंड ट्रांसप्लांट करने के लिए देश में मौजूद अस्पतालों में से एक होगा। यहां लीवर, किडनी, श्वासनली, वोकल कॉर्ड, आंत, हृदय, फेफड़े, अग्न्याशय, त्वचा, हड्डी, चेहरे और अस्थि मज्जा का ट्रांसप्लांट भी करेंगे।

फरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10 हजार का स्टाफ होगा तैनात

मेडिकल छात्रों और डॉक्टरों का प्रशिक्षण एक मजबूत फोकस क्षेत्र होगा। अस्पताल में एक अत्याधुनिक रोबोटिक्स, हैप्टिक, सर्जिकल-मेडिकल सिमुलेशन सेंटर होगा जो 4 मंजिलों और 1.5 लाख वर्ग फुट क्षेत्र में फैला होगा, जो देश में डॉक्टरों के लिए इस तरह की सबसे बड़ी सीखने और विकास की सुविधा है। यह सुविधा एक मेडिकल कॉलेज और देश के सबसे बड़े संबद्ध स्वास्थ्य विज्ञान परिसर की भी मेजबानी करेगी।

इन चीजों को समर्पित है अस्पताल

फरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10 हजार का स्टाफ होगा तैनात

अमृता हॉस्पिटल्स के ग्रुप मेडिकल डायरेक्टर डॉ. प्रेम नायर ने कहा कि फरीदाबाद में अमृता हॉस्पिटल देश के हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए एक बड़ा अतिरिक्त होगा, इसके मरीज के कैचमेंट एरिया पूरे उत्तर भारत और उत्तर-पूर्वी भारत में फैले हुए हैं। माता अमृतानंदमयी देवी के आशीर्वाद और प्रेम से निर्मित यह विशाल सुपर-स्पेशियलिटी स्वास्थ्य सुविधा भारत के लोगों को बीमारों को ठीक करने, जरूरतमंदों की मदद करने और चिकित्सा विज्ञान को आगे बढ़ाने के लिए समर्पित है। नया अस्पताल कोच्चि में अमृता अस्पताल की पवित्र विरासत को आगे बढ़ाएगा, जो पिछले 25 वर्षों से अधिक समय से दक्षिण भारत में स्वास्थ्य सेवा प्रणाली का एक बड़ा हिस्सा है।

फरीदाबाद में खुलने वाला है भारत का सबसे बड़ा प्राइवेट अस्पताल, 10 हजार का स्टाफ होगा तैनात

फरीदाबाद में अल्ट्रा-आधुनिक अमृता अस्पताल कम कार्बन पदचिह्न के साथ भारत की सबसे बड़ी ग्रीन-बिल्डिंग हेल्थकेयर परियोजनाओं में से एक होगा। यह एक एंड-टू-एंड पेपरलेस सुविधा है, जिसमें शून्य अपशिष्ट निर्वहन होता है। मरीजों के तेजी से परिवहन के लिए परिसर में एक हेलीपैड और एक 498 कमरों वाला गेस्ट हाउस भी है जहां मरीजों के साथ आने वाले परिचारक रह सकते हैं।

Latest articles

हरियाणा के बसई गांव से पहली महिला आईएएस बनी ममता यादव

यूपीएससी क्लियर करना बहुत बड़ी उपलब्धि की श्रेणी में आता है और जब कोई...

हरियाणा के रोल मॉडल बने ये दादा पोती की जोड़ी टीचर दादाजी के सहयोग से 23 साल में ही बनी आईएएस

हमने हमेशा से सुना की एक आदमी के सफलता के पीछे हमेशा एक औरत...

अक्षिता गुप्ता आईएएस बनने से पहले डॉक्टर बनना चाहती थी फिर कुछ ऐसा हुआ की क्लियर कर लिया यूपीएससी

यूपीएससी परीक्षा भारत की सबसे कठिन परीक्षा मानी जाती है जिसने हर साल लाखों...

ग्रेटर फरीदाबाद में कछुये की रफ़्तार से हो रहा है कार्य, कई महीनों से बंद हैं आस-पास के रास्ते

फरीदाबाद में बाईपास रोड पर दिल्ली-मुंबई-वडोदरा-एक्सप्रेसवे के लिंक रोड पर बीपीटीपी एलिवेटेड पुल का...

More like this

हरियाणा के बसई गांव से पहली महिला आईएएस बनी ममता यादव

यूपीएससी क्लियर करना बहुत बड़ी उपलब्धि की श्रेणी में आता है और जब कोई...

हरियाणा के रोल मॉडल बने ये दादा पोती की जोड़ी टीचर दादाजी के सहयोग से 23 साल में ही बनी आईएएस

हमने हमेशा से सुना की एक आदमी के सफलता के पीछे हमेशा एक औरत...

अक्षिता गुप्ता आईएएस बनने से पहले डॉक्टर बनना चाहती थी फिर कुछ ऐसा हुआ की क्लियर कर लिया यूपीएससी

यूपीएससी परीक्षा भारत की सबसे कठिन परीक्षा मानी जाती है जिसने हर साल लाखों...