Online se Dil tak

सख्त हुई फरीदाबाद पुलिस, शहर के बड़े हिस्से में बंद हुई सभी इंटरनेट सेवाएं

हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से फरीदाबाद के उप मण्डल बल्लभगढ़ के क्षेत्रीय अधिकार क्षेत्र में वॉयस कॉल को छोड़कर इंटरनेट (Internet Services Closed in Faridabad) सेवाओं (2जी/3जी/4जी/सीडीएमए/जीपीआरएस), सभी एसएमएस सेवाओं (बल्क एसएसएम सहित, बैंकिंग और मोबाइल रिचार्ज को छोड़कर) तथा मोबाइल नेटवर्क पर दी जाने वाली सभी डोंगल सेवाओं आदि को 16 जून, 2022 (रात्रि 10:00 बजे से) अगले 24 घंटों के लिए बंद करने के आदेश जारी किये हैं।

यह आदेश दूरसंचार सेवाओं का अस्थायी निलंबन (सार्वजनिक आपातकाल या सार्वजनिक सुरक्षा) नियम, 2017 के नियम (2) के साथ पठित भारतीय टेलीग्राफ अधिनियम, 1885 की धारा 5 के तहत जारी किए गए हैं।

सख्त हुई फरीदाबाद पुलिस, शहर के बड़े हिस्से में बंद हुई सभी इंटरनेट सेवाएं

इस संबंध में सरकारी प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि नई सेना भर्ती नीति के कारण पलवल में उत्पन्न संभावित कानून-व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए उप मण्डल बल्लभगढ़ में प्रदर्शनकारियों, आंदोलनकारियों, उपद्रवियों और असामाजिक तत्वों द्वारा क्षेत्र में तनाव, नाराज़गी या व्यक्तियों को चोट, जान व संपत्ति के लिए खतरा और सार्वजनिक शांति भंग होने की संभावना है।

सख्त हुई फरीदाबाद पुलिस, शहर के बड़े हिस्से में बंद हुई सभी इंटरनेट सेवाएं
सख्त हुई फरीदाबाद पुलिस, शहर के बड़े हिस्से में बंद हुई सभी इंटरनेट सेवाएं

इसे देखते हुए एसएमएस और विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्मों जैसे व्हाट्सएप, फेसबुक ट्विटर आदि के माध्यम से दुष्प्रचार और अफवाहों के प्रसार को रोकने के लिए इंटरनेट सेवाओं को अगले 24 घण्टे के लिए बंद करने का निर्णय लिया है।

सख्त हुई फरीदाबाद पुलिस, शहर के बड़े हिस्से में बंद हुई सभी इंटरनेट सेवाएं

इस प्रकार के दुष्प्रचार और अफवाहें आंदोलनकारियों तथा प्रदर्शनकारियों की भीड़ बढ़ाने और उनकी लामबंदी का काम करती हैं, जो आगजनी या तोड़फोड़ और अन्य प्रकार की हिंसक गतिविधियों में शामिल होकर जान की गंभीर हानि और सार्वजनिक व निजी संपत्तियों को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

सख्त हुई फरीदाबाद पुलिस, शहर के बड़े हिस्से में बंद हुई सभी इंटरनेट सेवाएं

हरियाणा के सभी दूरसंचार सेवा प्रदाताओं को इस आदेश का अनुपालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है और उपरोक्त आदेश के उल्लंघन का दोषी पाए जाने वाले किसी भी व्यक्ति पर संबंधित प्रावधानों के तहत कानूनी कार्रवाई की जा सकती है।

Read More

Recent