HomeFaridabadआख़िर फरीदाबाद में कब होगा कचरे का ढेर खत्म, हर तरफ दिखाई...

आख़िर फरीदाबाद में कब होगा कचरे का ढेर खत्म, हर तरफ दिखाई दे रहा है कुड़े का अंबार

Published on

फरीदाबाद जिले में जगह जगह कचरे के ढेर का मिलना कोई नई बात नहीं है। लोगों को अब इन कचरों व कूडे के ढेर के बीच रहकर आदत सी हो गई है। पहले लोग इन गन्दगियों की नई-नई शिकायतें लेकर नगर निगम के पास पहुँच जाते थे, परंतु अब लोगों को इसकी आदत हो गई है।

लेकिन इसकी वजह से लोगों में बहुत सी नई नई बिमारियाँ देखने को मिल रही हैं। लोगों में सांस की बीमारी, हृदय गति, ब्लड प्रेशर आदि समस्याएं देखेंने को मिलता है।

आख़िर फरीदाबाद में कब होगा कचरे का ढेर खत्म, हर तरफ दिखाई दे रहा है कुड़े का अंबार


जिस तरीके से फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी का नाम दिया गया है यहाँ के लोग इस पर हँसते हैं और मजाक बनाते हैं, लोग अपने आस पास पड़े कचरे को हमेशा देखते हैं लेकिन उसकी सफाई कोई नहीं करता या इसके ऊपर कोई आवाज़ नहीं उठाता।

यदि लोगों को भी चाहिए कि उनकी सिटी स्मार्ट बने तो उससे पहले लोगों को स्मार्ट बनना होगा और पर्यावरण की सफाई करनी होगी।

आख़िर फरीदाबाद में कब होगा कचरे का ढेर खत्म, हर तरफ दिखाई दे रहा है कुड़े का अंबार


आपको बता दें की प्रशासन की तरफ से भी बड़ी लापरवाही देखी जाती है सड़कों पर कहीं ना कहीं कुड़े का ढेर मिल ही जाता है जिसे कई दिनों तक उठाया नही जाता। NH4, आदर्श नगर और SGM नगर जैसे इलाकों में लोगों द्वारा कचरे के अलावा पशुओं के गोबर को भी ऐसे ही खुले में डाल दिया जाता है

आख़िर फरीदाबाद में कब होगा कचरे का ढेर खत्म, हर तरफ दिखाई दे रहा है कुड़े का अंबार

जिससे उस क्षेत्र में जाने पर बहुत परेशानी होती है और वहाँ सांस भी नहीं लिया जाता और नगर निगम के सफाई कर्मचारियों द्वारा भी ये कूड़ा उठाया नहीं जाता।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...