Online se Dil tak

फरीदाबाद में प्रशासन की खुल रही है पोल, सामने आ रहे हैं ऐसे काम

फरीदाबाद को भले ही स्मार्ट सिटी का नाम क्यों ना दे दिया हो परंतु इसमें अभी बहुत सी ऐसी कमियां हैं जिन्हे सुधारना बेहद आवश्यक है। आपको बता दें कि खेड़ी जसाना रोड, सेक्टर-88 के सामने मुख्य सड़क की हालत खराब होने से हजारों वाहन चालकों को परेशानी हो रही है। यहां अमौलिक रिहायशी सोसायटी तक तो सड़क ठीक बनी हुई है, लेकिन इससे आगे की जर्जर है।

फरीदाबाद में प्रशासन की खुल रही है पोल, सामने आ रहे हैं ऐसे काम

सबसे अधिक दिक्कत आसपास सोसायटी में रहने वाले लोगों को भी हो रही है। ग्रेटर फरीदाबाद की दर्जनों सोसायटी और दो दर्जन से अधिक गांव को जाने वाली ये मुख्य सड़क है।

फरीदाबाद में प्रशासन की खुल रही है पोल, सामने आ रहे हैं ऐसे काम
फरीदाबाद में प्रशासन की खुल रही है पोल, सामने आ रहे हैं ऐसे काम

खेड़ीपुल से जसाना और फिर मंझावली तक जाने वाली यह अतिव्यस्त सड़क है। रोज हजारों वाहन चालक आवागमन करते हैं।

इनसे दोपहिया वाहनों के फिसलने का डर लगा रहता है। सेक्टर-88 में आरपीएस सवाना और आरपीएस औरिया सहित कई सोसायटी हैं, जहां पांच हजार परिवार रहते हैं।

फरीदाबाद में प्रशासन की खुल रही है पोल, सामने आ रहे हैं ऐसे काम

बड़े वाहन भी आते-जाते हैं। आटो गुजरते हैं। ऐसे में वाहन पलटने की आशंका बनी रहती है। कई बार दोपहिया वाहन चालक गिरकर चोटिल हो चुके हैं। जर्जर सड़क के नीचे के पत्थर आ गए हैं।

वर्षा होते ही यहां काफी जलभराव हो जाता है, जिसकी वजह से वाहन चालकों का आवागमन कठिन हो जाता है। कई बार शिकायत की जा चुकी है, लेकिन सुनवाई नहीं हुई है।

Read More

Recent