HomeFaridabadसिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर में धूम-धाम से मनाई गई कान्हा की छठी,...

सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर में धूम-धाम से मनाई गई कान्हा की छठी, विशेष आरती का हुआ आयोजन

Published on

हिंदू धर्म में कृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार बेहद ही खास होता है और इसे हाल ही में पूरे देश में बड़ी धूमधाम से मनाया गया। वहीं अब कृष्ण भक्तो ने श्री लड्डू गोपाल जी के छठी महापर्व पावन सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर 1 बी ब्लॉक में धुमधाम से मनाई। श्री लड्डू गोपाल जी की छठी पूजा के उपलक्ष्य पर अखिल भारतवर्षीय श्री सनातन धर्म महाबीर दल ने विशेष आरती एवं भव्य पूजा का आयोजन किया। इस विशेष आरती में सभी श्रद्धालुओं ने एक स्थान पर खड़े होकर पूजा की।

इस अवसर पर महिला सत्संग मंडली में नीरू खेरा, वीना शर्मा, निधि, अनु, ममता भाटिया, तमन्ना, सरोज नागपाल, गुलशन अरोड़ा जी ने श्री लड्डू गोपाल जी के छठी महापर्व के अवसर पर भजनों की अमृत वर्षा कर खूब रगं जमाया।

सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर में धूम-धाम से मनाई गई कान्हा की छठी, विशेष आरती का हुआ आयोजन

मदिंर के प्रधान अशोक अरोड़ा ने कहा कि हिंदू धर्म में कृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार बेहद ही खास होता है और इसे हाल ही में पूरे देश में बड़ी धूमधाम से मनाया गया. वहीं अब कृष्ण भक्त कृष्ण छठी मना रहे हैं।

सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर में धूम-धाम से मनाई गई कान्हा की छठी, विशेष आरती का हुआ आयोजन

उन्होने कहा कि जन्माष्टमी की तरह ही कृष्ण छठी का भी विशेष महत्व होता है, हिंदू धर्म में किसी बच्चे का जन्म होने के 6 दिन बाद षष्ठी देवी की पूजा की जाती है और इसे छठी कहते हैं। मान्यता है कि छठी के दिन षष्ठी देवी बच्चे को स्वस्थ्य रहने की आशीर्वाद देती हैं।

सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर में धूम-धाम से मनाई गई कान्हा की छठी, विशेष आरती का हुआ आयोजन

उन्होने कहा कि छठी महापर्व के अवसर पर सुबह स्नान के बाद बाल गोपाल को पंचामृत (दूध, दही, घी, शहद, गंगाजल) से स्नान करवाया जाता है। इसके बाद दक्षिणावर्ती शंख में गंगाजल भर कर बाल गोपाल का फिर से अभिषेक किया जाता है।

सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर में धूम-धाम से मनाई गई कान्हा की छठी, विशेष आरती का हुआ आयोजन

कान्हा को उनके प्रिय पीले रंग के वस्त्र पहनाएं जाते है और चंदन का टीका लगाकर उनका शृंगार किया जाता है। इसके बाद उनका कोई भी पंसदीदा नाम जैसे-लड्डू गोपाल, ठाकुर जी, कान्हा, माधव, आदि नाम रखे जाते है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...