HomeFaridabadफरीदाबाद में हरियाली के नाम पर बर्बाद हो रहे हैं लाखों रुपये,...

फरीदाबाद में हरियाली के नाम पर बर्बाद हो रहे हैं लाखों रुपये, खुल रही है अधिकारियों की पोल

Published on

हरियाणा हरियाली के लिए जाना जाता है और फरीदाबाद को भी हरियाली बनाने के लिए यहां पर विभिन्न प्रकार के पौधे लगाए जा रहे हैं जिससे फरीदाबाद का वातावरण शुद्ध हो सके और फरीदाबाद को हरा भरा देख सके।

परंतु जिस तरीके से फरीदाबाद एक स्मार्ट सिटी के नाम से जाना जाता है लेकिन यहां पर स्मार्ट सिटी एक सपना है ठीक उसी तरह यहां की हरियाली भी एक तरह का सपना बनती नजर आ रही है।

फरीदाबाद में हरियाली के नाम पर बर्बाद हो रहे हैं लाखों रुपये, खुल रही है अधिकारियों की पोल

क्योंकि आपको बता दें कि नगर निगम द्वारा जिस एजेंसी को शहर में पौधे लगाने का कार्य सौंपा गया है वह ठीक तरीके से कार्य को नहीं कर रही है इसमें एजेंसी द्वारा लापरवाही की जा रही है।

दरअसल आपको बता दें कि शहर में कई जगहों पर नगर निगम ने पौधे लगाने का जिम्मा एजेंसी को सौंपा है जो कि 4 महीने पहले से ही पौधे लगा चुकी थी परंतु अब इन पौधों की खराब स्थिति देखी जा रही है ।

फरीदाबाद में हरियाली के नाम पर बर्बाद हो रहे हैं लाखों रुपये, खुल रही है अधिकारियों की पोल

पौधे सूख चुके हैं लोगों द्वारा बताया जा रहा है कि एजेंसी द्वारा पौधे लगाए जा रहे हैं परंतु उसमें पानी डालने के लिए उनका देखभाल करने के लिए कोई भी कर्मी कार्य नहीं कर रहे हैं।

निगम अधिकारियों द्वारा यह बताया जा रहा है जो भी पौधे सूख रहे हैं उन्हें ऐसे ही छोड़ दिया जाता है। यह बड़े सौभाग्य की बात है फरीदाबाद के लिए कि केंद्र सरकार द्वारा देश के 42 शहरों को राष्ट्रीय क्लीन एयर प्रोग्राम के तहत चुना गया है ।

फरीदाबाद में हरियाली के नाम पर बर्बाद हो रहे हैं लाखों रुपये, खुल रही है अधिकारियों की पोल

इसमें फरीदाबाद एक शहर है प्रदूषण कम हो इसके लिए यहां पर लगातार पेड़ और पौधे लगाए जा रहे हैं प्रदूषण कम रहे इसके लिए केंद्र सरकार की तरफ से फरीदाबाद में 40 करोड़ दिए गए हैं।

जिनमें से 20 करोड रुपए के कार्य शहर में किए जा रहे हैं। फरीदाबाद में हरियाली बढ़ाना और नए-नए पेड़ पौधे लगाना भी इस कार्य में शामिल किए गए हैं ।

फरीदाबाद में हरियाली के नाम पर बर्बाद हो रहे हैं लाखों रुपये, खुल रही है अधिकारियों की पोल

नगर निगम कंपनी को फरीदाबाद में पौधे लगाने के लिए लगभग 1 लाख 25 हजार पौधे का लक्ष्य दिया हुआ है साथ ही इस कंपनी पर इस पौधों की लगभग 2 साल तक देखभाल करने का भी जिम्मा सौंपा गया है ।

इन पौधों को लगाने के लिए लगभग 4 महीने पहले से ही कार्य शुरू कर दिया गया था परंतु अब पौधों की हालत बेहद खराब स्थिति में देखी जा रही है।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...