HomeFaridabadबस टिकट के लिए अब नहीं खाने होंगे धक्के, फरीदाबाद के लोगों...

बस टिकट के लिए अब नहीं खाने होंगे धक्के, फरीदाबाद के लोगों को मिली राहत की खबर

Published on

फरीदाबाद गुरुग्राम और अन्य जिलों के लिए एक बेहद खुशी की खबर है दरअसल बसों में आजकल बहुत भीड़ रहती है जिसके कारण लोगों को टिकट लेने में भी काफी समस्या का सामना करना पड़ता है ।

परंतु अब ऐसा नहीं होगा अब लोग घर बैठे सिटी बस के टिकट को बुक कर सकते हैं। गुरुग्राम मेट्रोपॉलिटन सिटी बस लिमिटेड (जीएमसीबीएल) की बुकिंग भी कर सकेंगे।

बस टिकट के लिए अब नहीं खाने होंगे धक्के, फरीदाबाद के लोगों को मिली राहत की खबर

पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर एसी बसों के साथ इसकी शुरुआत हुई। पूरे देश में यह पहल हरियाणा के गुरुग्राम से शुरू की जा रही है। इस काम से सार्वजनिक सेवाओं को डिजिटल करके यात्रियों के लिए सुविधाजनक साबित हो सकती है।

बस टिकट के लिए अब नहीं खाने होंगे धक्के, फरीदाबाद के लोगों को मिली राहत की खबर

इन बसों की यदि बात की जाए तो इन बसों में कंडक्टर मौजूद नहीं होंगे जो भी ऑनलाइन टिकट बुक किया होगा यात्रियों को वह ड्राइवर को दिखाकर बस में प्रवेश कर सकता है ।

बस टिकट के लिए अब नहीं खाने होंगे धक्के, फरीदाबाद के लोगों को मिली राहत की खबर

वह बस यात्रा कर सकता है। इस कार्य का शुभारंभ जीएमसीबीएल के चेयरपर्सन और जीएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुधीर राजपाल तथा इसके सीईओ अंजू चौधरी ने बसों को हरी झंडी दिखाई और सेक्टर 10 से इसकी शुरुआत की।

बस टिकट के लिए अब नहीं खाने होंगे धक्के, फरीदाबाद के लोगों को मिली राहत की खबर

बता दें कि यह बसें सुबह 7:00 बजे से रात 12:00 बजे तक चलाई जाएंगी टिकट की कीमत लगभग ₹7 प्रति किलोमीटर के हिसाब से होगा ।

यह बसें बादशाहपुर बस स्टैंड से डीएलएफ साइबर पार्क, हुड्डा सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन परिसर से किया जाएगा। बीपीटीपी के एस्टायर गार्डन से गोल्फ रोड होते हुए डीएलएफ साइबर पार्क तक किया जाएगा इन बसों के चलने से यात्रियों को सुविधा होगी।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...