HomeFaridabadफरीदाबाद में खोला गया बर्तन बैंक नहीं होगा प्रदूषण, अब लोग ज़रूरत...

फरीदाबाद में खोला गया बर्तन बैंक नहीं होगा प्रदूषण, अब लोग ज़रूरत के हिसाब से ले सकेंगे बर्तन

Published on

फरीदाबाद में सिंगल यूज प्लास्टिक को लेकर पहले ही प्रतिबंध लगा दिया गया है। अब लोगों को जागरूक करने का काम किया जा रहा है जिससे लेकर कई संस्थाएं भी काम कर रही हैं और लोगों को सिंगल उस प्लास्टिक का इस्तेमाल ना करने के लिए प्रोत्साहित भी कर रहे हैं।

इसकी गंभीरता से कार्य करते हुए आर्थिक रूप से भी लोगों की सहायता कर रही है तथा उन्हें प्लास्टिक का प्रयोग ना करने के लिए भी प्रोत्साहित कर रही है। वहीं कुछ संस्थान द्वारा सिंगल यूज प्लास्टिक को बंद करने के लिए

फरीदाबाद में खोला गया बर्तन बैंक नहीं होगा प्रदूषण, अब लोग ज़रूरत के हिसाब से ले सकेंगे बर्तन

तथा इससे लोगों की दूरी बनाए रखने के लिए अपनी तरफ से लोगों को उनकी जरूरतों के हिसाब से स्टील के बर्तनों को दिया जाता है जिसका वे इस्तेमाल कर सके और फिर बाद में वापस ले लिया जाता है।

जानकारी के लिए बता दें कि विभिन्न क्षेत्रों में ग्रीनहैंड्स ग्रुप के द्वारा बर्तन बैंक चलाया जा रहा है जिसके तहत यदि किसी भी घर में विवाह कार्यक्रम या कुछ ऐसा कार्यक्रम जिसमें बर्तनों का प्रयोग किया जाता है

फरीदाबाद में खोला गया बर्तन बैंक नहीं होगा प्रदूषण, अब लोग ज़रूरत के हिसाब से ले सकेंगे बर्तन

तो यह संस्था अपनी बर्तन बैंक के द्वारा इन घरों में चीन के बर्तन देते हैं ताकि लोग सिंगल उस प्लास्टिक का प्रयोग ना करें। ग्रीनहैंड्स की संस्था पिका पिका सुनेजा द्वारा लगभग 7 वर्ष पहले बर्तन बैंक की शुरुआत की गई थी।

फरीदाबाद में खोला गया बर्तन बैंक नहीं होगा प्रदूषण, अब लोग ज़रूरत के हिसाब से ले सकेंगे बर्तन

जिसमें लगभग 50 बर्तन शुरुआत में थे । परंतु अब इन बर्तनों की संख्या लगभग 15 सो तक पहुंच गई है। लोग अपनी जरूरतों के हिसाब से यहां से बर्तन ले जाते हैं और कितने बर्तनों की आवश्यकता होती है

फरीदाबाद में खोला गया बर्तन बैंक नहीं होगा प्रदूषण, अब लोग ज़रूरत के हिसाब से ले सकेंगे बर्तन

बर्तन बैंक के द्वारा उसकी पूर्ति की जाती है। वही बर्तन बैंक का यह उद्देश्य है कि लोग ज्यादा से ज्यादा स्टील के बर्तनों का प्रयोग करें और थर्माकोल तथा सिंगल यूज प्लास्टिक से बने बर्तनों को खुद से दूर रखें।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...