HomeFaridabadफरीदाबाद से गुड़गांव की मेट्रो की रफ्तार पिछले 8 सालो से जीरो...

फरीदाबाद से गुड़गांव की मेट्रो की रफ्तार पिछले 8 सालो से जीरो किलोमीटर प्रतिघंटे के हिसाब से दौड़ रही है

Published on


फरीदाबाद और गुड़गांव की जनता पिछले 8 साल से मुख्यमंत्री की घोषणा का सच होने का इंतजार कर रही है। दरअसल हम बात फरीदाबाद से गुड़गांव के लिए चलाने वाली मेट्रो की जिसे केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने 2021 में ही मेट्रो सेवा शुरू करने का दावा कर दिया था। इसके बावजूद भी जमीन पर एक एक ईट तक नही रखी गई। फरीदाबाद से गुड़गांव में रोजाना लाखों लोग आते-जाते हैं। परेशान लोग सोशल मीडिया पर आवाज उठा रहे हैं, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। फिलहाल सड़क मार्ग ही एक मात्र विकल्प है। मेट्रो का सफर सीधा नही है।

2014 में कही थी मेट्रो चालू करने की बात

फरीदाबाद से गुड़गांव की मेट्रो की रफ्तार पिछले 8 सालो से जीरो किलोमीटर प्रतिघंटे के हिसाब से दौड़ रही है

फरीदाबाद-गुड़गांव को मेट्रो से जोड़ने के लिए भाजपा सरकार द्वारा कई बार दावे किए गए हैं। सबसे पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 2014 में ट्विटर पर फरीदाबाद से गुड़गांव तक मेट्रो सेवा शुरू करने की बात कही थी। 2015 में औपचारिक रूप से इसकी घोषणा की गई थी। 2018 में, स्थानीय सांसद और केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) के साथ मीडिया के सामने आए थे। उन्होंने दावा किया था कि 2021 तक मेट्रो सेवा शुरू कर दी जाएगी।

हालांकि फरीदाबाद से गुड़गांव की दूरी कम है, लेकिन शहर के अंदर से गुड़गांव पहुंचने में एक से डेढ़ घंटे का समय लगता है। एनएच से गुड़गांव पहुंचने के लिए पीक ऑवर्स के दौरान सैनिक कॉलोनी को पार करने और पहाड़ी सड़क तक पहुंचने में समय लगता है। अजरौंदा से गुड़गांव तक नीलम रेलवे ओवरब्रिज, बीके चौक, मेट्रो मोड और फिर सैनिक कॉलोनी के पास भारी ट्रैफिक से गुजरना पड़ता है। टोल प्लाजा पर भी लंबी लाइन लगी रहती है। उसके बाद गुड़गांव में जाम से जूझना पड़ता है।


दोनो शहरो के बीच है केवल बस व्यवस्था

फरीदाबाद से गुड़गांव की मेट्रो की रफ्तार पिछले 8 सालो से जीरो किलोमीटर प्रतिघंटे के हिसाब से दौड़ रही है

फरीदाबाद और गुड़गांव से रोजाना लाखों लोग सफर करते हैं। रोजाना 50 हजार वाहन बांधवाड़ी के पास बने टोल प्लाजा पर अप-डाउन करते हैं। बल्लभगढ़ और फरीदाबाद बस स्टैंड से रोजाना 25 बसें गुड़गांव के लिए चलती हैं। इनमें रोडवेज बसों के साथ ही परमिट वाली निजी बसें भी शामिल हैं। रोजाना दो से तीन हजार लोग बसों से गुड़गांव के लिए सफर करते हैं। वहीं प्राइवेट कैब से भी हजारों लोग गुड़गांव आते-जाते हैं।


कब से शुरू हुआ कहां पहुंचा प्रोजेक्ट

2018 में केंद्रीय राज्य मंत्री ने डीपीआर में आठ मेट्रो स्टेशनों का जिक्र किया था। वहीं, इस पूरे प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत 5900 करोड़ रुपए बताई गई थी। अब इसकी लागत 6900 करोड़ रुपए बताई जा रही है। इसमें 12 स्टेशन होंगे। फरीदाबाद से गुड़गांव मेट्रो रूट की लंबाई 32.14 किमी होगी। फरीदाबाद की तरफ से बाटा चौक, प्याली चौक, शहीद भगत सिंह मार्ग, बड़खल एन्क्लेव, पाली चौक, पुलिस चौकी मांगर में मेट्रो स्टेशन बनाने का प्रस्ताव है। वहीं, बताया गया कि गुड़गांव के ग्वाल पहाड़ी, सेक्टर-56, सुशांत लोक, सुशांत लोक-फेस III, रोजवुड सिटी और वाटिका चौक पर स्टेशन बनाने का प्रस्ताव है।


Latest articles

फरीदाबाद का ये शहर दिखने वाला है कुछ अलग, किये जायेंगे करोड़ों रुपये खर्च, होगा बदलाव

फरीदाबाद में तमाम जगहों पर जाम की स्थिति देखी जाती है परंतु प्रशासन द्वारा...

बिना किसी को बताए 2 लाख की Royal Enfield Bullet सिर्फ 50 हजार रु में खरीदे, जाने कहा चल रहा है ऑफर

महंगी और स्टाइलिश कार्स के बहुत लोग शौकीन होते। लेकिन आजकल लोगो को बुलेट...

इस वजह से लगातार 7 दिनों तक बिना मुंह धुले शूटिंग करते रहे अमिताभ बच्चन, वजह जान रह जाएंगे दंग

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन ऐसे ही बिग बी नहीं कहे जाते उन्होंने सफलता...

अभिषेक बच्चन की इस हरकत ने तोड़ा था ऐश्वर्या राय का दिल, एक्ट्रेस ने पति को 2 दिन घर में नही दी एंट्री, जाने...

अभिषेक बच्चन और ऐश्वर्या राय इंडस्ट्री के सबसे हैप्पी कपल है। बॉलीवुड में जोड़ियां...

More like this

फरीदाबाद का ये शहर दिखने वाला है कुछ अलग, किये जायेंगे करोड़ों रुपये खर्च, होगा बदलाव

फरीदाबाद में तमाम जगहों पर जाम की स्थिति देखी जाती है परंतु प्रशासन द्वारा...

बिना किसी को बताए 2 लाख की Royal Enfield Bullet सिर्फ 50 हजार रु में खरीदे, जाने कहा चल रहा है ऑफर

महंगी और स्टाइलिश कार्स के बहुत लोग शौकीन होते। लेकिन आजकल लोगो को बुलेट...

इस वजह से लगातार 7 दिनों तक बिना मुंह धुले शूटिंग करते रहे अमिताभ बच्चन, वजह जान रह जाएंगे दंग

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन ऐसे ही बिग बी नहीं कहे जाते उन्होंने सफलता...