HomeFaridabadनववर्ष पर फरीदाबाद के लिए विकास के फायदों का भरमार, जाने क्या...

नववर्ष पर फरीदाबाद के लिए विकास के फायदों का भरमार, जाने क्या हुआ है खास?

Published on



औद्योगिक नगरी फरीदाबाद में विकास का कार्य पीछे साल धीमी गति से पटरी पर चलता रहा और जनता विकास का लुफ्त उठाने का इंतजार करते करते 2022 से नए साल 2023 में प्रवेश कर चुकी है। लेकिन मुद्दा ये है क्या नया साल फरीदाबाद वासियो के कोई नया तौहफा या विकास की नई किरण लेकर आई है? आपको बता दे, नए साल में फरीदाबाद को ढेर सारे फायदे मिल सकते है जिसकी लिस्ट आज हम आपको देगे।

जंगल सफारी में विकसित होगा अरावली जंगल

नववर्ष पर फरीदाबाद के लिए विकास के फायदों का भरमार, जाने क्या हुआ है खास?

अरावली में विश्व का सबसे बड़ा 10 हजार एकड़ में जंगल सफारी बनाया जायेगा। जिसके बनने के बाद हरियाणा बड़े पर्यटन हब के रूप में विकसित हो सकेगा। साथ ही इसका लाभ ये होगा की पर्यटकों के लिए घूमने का केंद्र बन जाएगा। दिल्ली एनसीआर की जनता की भीड़ यहां देखने को मिलेगी।

आपको यहां वॉकिंग, साइक्लिंग, ट्रैकिंग की सुविधा के साथ ही ऑडिटोरियम में पशु पक्षियों से संबंधित थ्री डी शो जिसे दिलचस्प चीज भी देखने को मिलेगी। इस वक्त विश्व का सबसे बड़ा जंगल सफारी अफ्रीका के बाहर शारजाह में 2200 एकड़ में बना हुआ है।

अरावली के जंगल में शेर की दहाड़ भी सुनने को मिलेगी जिससे गुड़गांव से नूह तक शहर की दहाड़ लोगो की धड़कने बढ़ाएगी। अरावली रेंज में पक्षियों की 180, स्तनधारियों की 15, जलीय जीव और रेप्टाइल्स की 29 और तितलियों की 57 प्रजातियां हैं।

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से नजदीक होगा फरीदाबाद का सफर

नववर्ष पर फरीदाबाद के लिए विकास के फायदों का भरमार, जाने क्या हुआ है खास?

ग्रेटर नोएडा के जेवर में तैयार हो रहा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट अक्टूबर 2024 उड़ान भरने की तैयारी में है इसलिए नए साल से काम तेजी से हो रहा है। इसे 6200 हेक्टेयर में बनाया जा रहा है जोकि विश्व का चौथा सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा। इस एयरपोर्ट के बनने से फरीदाबाद को काफी सहूलियत हो जाएगी दिल्ली जाने के बजाय नोएडा से ही काम बन जाएगा।

लगभग 6 हजार करोड़ के बजट से पहला चरण पूरा करा जा रहा है जिसका जनवरी 2024 में ट्रायल भी होगा। इस एयरपोर्ट प्रॉजेक्ट के आने की वजह से यमुना अथॉरिटी का लगातार विस्तार हो रहा है। यहां मेडिकल डिवाइस पार्क, फिल्म सिटी, डेटा पार्क, एजुकेशनल हब, इंडस्ट्रियल हब, जापानी व कोरियन सिटी स्थापित होंगे।

एयरपोर्ट के साथ ही यहां कार्गो भी बनाया जा रहा है। इससे आयात निर्यात को नई रफ्तार मिलेगी नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट से आईजीआई दिल्ली तक हाईस्पीड मेट्रो भी चलाए जाने की योजना है। अब तक 20% काम पूरा हो चुका है।

नववर्ष पर दिल्ली मेरठ रैपिड ट्रेन है तैयार

नववर्ष पर फरीदाबाद के लिए विकास के फायदों का भरमार, जाने क्या हुआ है खास?

दिल्ली से मेरठ तक के इस पूरे कॉरिडोर को 2025 तक चालू करने का लक्ष्य रखा गया है। साहिबाबाद से दुहाई के बीच 17 किमी के प्रायॉरिटी सेक्शन पर इसी महीने से ट्रायल रन, मार्च से पैसेंजर्स को सुविधा देने का है प्लान है। इस कॉरिडोर की लंबाई 82.15 किलोमीटर है।

इसमें ऊंचा ट्रैक -70 किमी (दिल्ली: 9.32 किमी, यूपी: 60.57 किमी) और भूमिगत ट्रैक -12 किमी (दिल्ली: 4.08 किमी, यूपी: 8.08 किमी) है। यह ट्रेन नवीनतम ट्रेन कंट्रोल एंड मैनेजमेंट सिस्टम (TCMS) तकनीक से 160 किमी प्रति घंटे की गति से चलेगी। 21 किमी के दायरे में 13 स्टेशन बनाए जा रहे हैं।

दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ कॉरिडोर में तीन डिपो स्टेशनों सहित कुल 25 स्टेशन होंगे। ट्रेन के डिब्बों में बैठने के लिए आमने-सामने 2×2 सीटें होंगी। एक कोच महिलाओं के लिए आरक्षित रहेगा। इस प्रोजेक्ट का 99% कार्य पूरा हो चुका है और इससे बनाने में 30,274 करोड़ रुपए का खर्च है।

EV हाईवे से बचेगा पेट्रोल और सीएनजी

नववर्ष पर फरीदाबाद के लिए विकास के फायदों का भरमार, जाने क्या हुआ है खास?

दिल्ली-जयपुर NH 48 को इलेक्ट्रिक वाहन राजमार्ग के रूप में विकसित किया जा रहा है। इस पर देश का सबसे बड़ा चार्जिंग स्टेशन बनाया गया है। इस पर वाहन सिर्फ डीजल या सीएनजी से ही नहीं, बल्कि बैटरी से भी चलेंगे। इसलिए परिवहन मंत्रालय का दावा है, EV हाइवे से हर साल 32 लाख करोड़ लीटर पेट्रोल और डीजल की बचत होगी, साथ ही प्रदूषण भी कम होगा।

दुनिया का सबसे लंबा 210 किमी नेशनल हाईवे (NHEV) गुड़गांव से गुजरेगा , ट्रायल रन हुआ पूरा और दावा किया जा रहा है कि 80% काम पूरा हो चुका है और इसे मार्च में शुरू करने की योजना है, 30 मिनट में ब्रेकडाउन की स्थिति में मिलेगी मदद, हर 10 किमी पर चार्जिंग स्टेशन में होगी बैटरी स्वैपिंग की सुविधा, ताकि चार्जिंग में कर सकूं समय बर्बाद नहीं।

एंटी थेफ्ट सिस्टम से इलेक्ट्रिक वाहनों की होगी सुरक्षा, सैटेलाइट से होगी निगरानी, इसका सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि बैटरी से चलने वाले वाहनों से वायु प्रदूषण शून्य होगा।

ग्लोबल सिटी बनेगा गुड़गांव

नववर्ष पर फरीदाबाद के लिए विकास के फायदों का भरमार, जाने क्या हुआ है खास?

गुड़गांव की व्यवस्था और खूबसूरती हर किसी को अपनी ओर आकर्षित करती है और अब तो यहां जो ग्लोबल सिटी बनने जा रही है वह तो हैरान कर देगी।

आपको बता दे इसी वर्ष ही अप्रैल से ग्लोबल सिटी बनने का कार्य शुरू होगा। फिलहाल सात कंपनियों ने काम करने की रुचि दिखाई है। सेक्टर-37 में आवासीय क्षेत्र के साथ ही एक हजार एकड़ से अधिक जमीन पर कार्यालय होंगे।

यहां स्कूल, अस्पताल, पार्क और अन्य सुविधाएं भी होंगी। साथ ही रेल, बस और सेमी हाई स्पीड ट्रेन की कनेक्टिविटी होगी। यहां एक म्यूजिकल फाउंटेन शो भी प्रस्तावित है, जो रात में अलग-अलग रंगों में दिखाया जाएगा।


देश के सबसे लंबे एक्सप्रेसवे की सौगात

नववर्ष पर फरीदाबाद के लिए विकास के फायदों का भरमार, जाने क्या हुआ है खास?

दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे देश का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे होगा, जहां वन्यजीवों के लिए एनिमल ब्रिज बन रहा है। इसका निर्माण कार्य 99% पूरा हो गया है। इसकी लंबाई करीब 1380 किलोमीटर होगी। दिल्ली से गुड़गांव होते हुए आप राजधानी ट्रेन से भी कम समय में 12 घंटे में मुंबई पहुंच जाएंगे।

हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश, गुजरात और महाराष्ट्र के प्रमुख आठ शहरों को सीधे जोड़ेगा। जरूरत पड़ने पर इस एक्सप्रेस-वे पर विमानों की इमरजेंसी लैंडिंग संभव होगी। यात्रा के दौरान 94 बिंदुओं पर पेट्रोल पंप, मोटल, विश्राम क्षेत्र, रेस्तरां और दुकानें होंगी।

Latest articles

Faridabad में गलियां हुई नालों मे तब्दील, आखिर कब तक रहेगा ये हाल?

फरीदाबाद में गाँव गौन्छी का बेहद बुरा हाल है। यहाँ गलियों का निर्माण किया...

फरीदाबाद में सूरजकुंड मेले का ज़ोरोशोरो से हुई शुरुआत, उपराष्ट्रपति ने किया शुभारंभ

सूरजकुंड (फरीदाबाद), 3 फरवरी। महामहिम उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने 36वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेला-2023...

विधायक नीरज शर्मा के एनआईटी विधानसभा के वार्ड 9 शुरू हुआ करोड़ों का विकास

आज एनआईटी विधानसभा के वार्ड-9 में करोडो रू के विकास कार्यो का शुभारभ्ंा किया...

फरीदाबाद का ये शहर दिखने वाला है कुछ अलग, किये जायेंगे करोड़ों रुपये खर्च, होगा बदलाव

फरीदाबाद में तमाम जगहों पर जाम की स्थिति देखी जाती है परंतु प्रशासन द्वारा...

More like this

Faridabad में गलियां हुई नालों मे तब्दील, आखिर कब तक रहेगा ये हाल?

फरीदाबाद में गाँव गौन्छी का बेहद बुरा हाल है। यहाँ गलियों का निर्माण किया...

फरीदाबाद में सूरजकुंड मेले का ज़ोरोशोरो से हुई शुरुआत, उपराष्ट्रपति ने किया शुभारंभ

सूरजकुंड (फरीदाबाद), 3 फरवरी। महामहिम उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने 36वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेला-2023...

विधायक नीरज शर्मा के एनआईटी विधानसभा के वार्ड 9 शुरू हुआ करोड़ों का विकास

आज एनआईटी विधानसभा के वार्ड-9 में करोडो रू के विकास कार्यो का शुभारभ्ंा किया...