HomeFaridabadशॉर्टकट लेने के चक्कर में मौत का कारण बना फरीदाबाद का ये...

शॉर्टकट लेने के चक्कर में मौत का कारण बना फरीदाबाद का ये नहर, बच्ची की हुई मौत

Published on

ग्रेटर फरीदाबाद से फरीदाबाद आने पर बीच रास्ते में बड़ी पाइप लाइन आगरा नहर के ऊपर से गुजरती है। लोग इसे शॉर्टकट के रूप में उपयोग करने के लिए अपनाते हैं, परंतु कई बार यह उनकी जिंदगी पर बोझ बन जाता है। रविवार की सुबह 12 वर्षीय बच्ची अपनी मां के साथ दवा लेने जा रही थी। इसी बीच अचानक पैर फिसला और वह नहर में जा गिरी। लोहे के कई छोटे-छोटे पुल दिखे, जो चलने के काम आते हैं। ये छोटे लोहे के पुल रेनवेल की मोटी पानी की लाइनों को फरीदाबाद तक ले जाने के लिए बनाए गए हैं। इसके साथ एक छोटा सा रास्ता है, जिस पर पैदल यात्री गुजरते हैं। सिंचाई विभाग ने ऐसी सड़कों को न तो बंद किया है और न ही वहां चेतावनी बोर्ड लगाया है। बुढ़िया नाला के ऊपर पानी की पाइप लाइन से गुजरने के लिए एक लोहे का पुल भी बनाया गया है, जिसे लोग खूब इस्तेमाल करते हैं।

 

पाइपलाइनों को बनाया गया पुल

शॉर्टकट लेने के चक्कर में मौत का कारण बना फरीदाबाद का ये नहर, बच्ची की हुई मौत

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एनआईटी, बरखाल और फरीदाबाद पश्चिमी भाग में स्थित हैं। यमुना के तट पर बने वर्षा कुएँ पूर्वी भाग में बने हैं। इन वर्षा कुओं से पानी पश्चिमी दिशा में मोटी पाइपलाइनों द्वारा पहुँचाया जाता है, लेकिन आगरा नहर रास्ते में है। इसके ऊपर कई जगहों पर निगम द्वारा लोहे के छोटे-छोटे पुल बनाए गए हैं। इन पुलों के ऊपर से पानी की मोटी लाइनें गुजर चुकी हैं। कई लोग इन्हें शॉर्टकट के तौर पर इस्तेमाल करते हैं।

 

उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग ने बोर्ड नहीं लगाया

शॉर्टकट लेने के चक्कर में मौत का कारण बना फरीदाबाद का ये नहर, बच्ची की हुई मौत

आगरा नहर से नवीनीकरण लाइन को पार करने के लिए लोहे के छोटे-छोटे पुल हैं। इसके ऊपर से पानी की लाइनें गुजर रही हैं। इसके साथ ही लोहे की चादर का एक छोटा सा रास्ता भी है, ताकि अगर पानी की लाइन में कोई दिक्कत हो तो उस पर चलकर कर्मचारी फाल्ट को ठीक कर सकें। आगरा नहर उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग के अंतर्गत आती है। मौके पर कोई चेतावनी बोर्ड नहीं लगा है। उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग के एसडीओ ब्रजकिशोर ने बताया कि बोर्ड लगाया जाएगा। विभागों को सड़कों पर बेरिकेडिंग करने को कहा जाएगा।

 

यह है खतरनाक पुल 

शॉर्टकट लेने के चक्कर में मौत का कारण बना फरीदाबाद का ये नहर, बच्ची की हुई मौत

1) पल्ला में हरकेश नगर के समीप आगरा नहर पर पुल बनाया गया है।

2) इसी तरह सेक्टर-17 कट के पास आगरा नहर पर लोहे का छोटा पुल है। इसके ऊपर से पानी की पाइप लाइन जाती है। यह पुल भी खुला है।

3) तीसरी पुलिस बीपीटीपी के पास है। इसका उपयोग कॉलोनी के लोग करते हैं।

4) अरावली से यमुना तट तक शहर का सबसे बड़ा बरसाती नाला बुढ़िया नाला की बात करें तो यहां लोहे का पुल बनाया गया है। इसके बीच से पानी की लाइनें गुजर चुकी हैं, लेकिन सराय ख्वाजा जाने के लिए कभी-कभी इसका इस्तेमाल डीएलएफ औद्योगिक क्षेत्र के कर्मचारी करते हैं। इस नाले के नीचे काफी कीचड़ है, अगर कोई गिरेगा तो पूरी तरह डूब जाएगा।

 

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...