HomeFaridabadफरीदाबाद के सेक्टरों की अब बस एक क्लिक में मिलेगी सारी जानकारी...

फरीदाबाद के सेक्टरों की अब बस एक क्लिक में मिलेगी सारी जानकारी इस डिजिटल मंत्रा से

Published on

फरीदाबाद में अब एचएसवीपी सेक्टरों का डिजिटल मैप बनवाने की योजना बना रही है। डिजिटल मैप तैयार करने के पीछे का कारण सेक्टरों में विकास कार्य के दौरान सीवर और पानी की लाइन ना टूटे इसे बताया जा रहा है।

यह काम हरियाणा अंतरिक्ष उपयोग केंद्र द्वारा बनाई गई भौगोलिक सूचना प्रणाली (जीआईएस लैब) से किया जा रहा है। इस डिजिटल मैप का फायदा लोगों के लिए ऑनलाइन भी उपलब्ध कराया जाएगा। तो बहुत जल्द फरीदाबादवासी एक क्लिक से अपने सेक्टर के बारे में जानकारी ले सकते है।


सेक्टरों के विकास कार्य की खस्ता है हालत

फरीदाबाद के सेक्टरों की अब बस एक क्लिक में मिलेगी सारी जानकारी इस डिजिटल मंत्रा से

स्मार्ट सिटी में करीब 1 से 89 सेक्टर हैं। इन सेक्टरों में लंबे समय से सड़क, पानी और सीवर की लाइनें पड़ी हुई हैं। दूसरी ओर, अब सेक्टरों में विकास कार्य हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (HSVP), FMDA और नगर निगम द्वारा किए जा रहे हैं।


सेक्टरों का तैयार होगा डिजिटल मैप

फरीदाबाद के सेक्टरों की अब बस एक क्लिक में मिलेगी सारी जानकारी इस डिजिटल मंत्रा से

ऐसे में सड़क निर्माण कार्य के दौरान अक्सर सीवर व पानी की लाइन टूट जाती है। इससे लोगों के साथ-साथ विभाग को भी परेशानी होती है। इसे देखते हुए एचएसवीपी सभी सेक्टर्स का डिजिटल मैप तैयार करने जा रहा है। यह काम जीआईएस लैब को दिया गया है। डिजिटल मैप को जिओ से टैग किया जाएगा।

लोकेशन के साथ मिलेगी अन्य महत्वपूर्ण जानकारी

फरीदाबाद के सेक्टरों की अब बस एक क्लिक में मिलेगी सारी जानकारी इस डिजिटल मंत्रा से

इससे हर सेक्टर में सड़क, सीवर, पानी और नालों की सही लोकेशन मिल सकेगी। लैब से मिली जानकारी के अनुसार सेक्टरों में सिविल सेवाओं की पूरी जानकारी उपलब्ध होगी। अन्य बातों के अलावा, लाइनें कितनी गहरी जा रही हैं और कितनी मोटी हैं, इसकी सटीक जानकारी उपलब्ध होगी।


सेटेलाइट से डाटा लिया जाएगा

फरीदाबाद के सेक्टरों की अब बस एक क्लिक में मिलेगी सारी जानकारी इस डिजिटल मंत्रा से

हरियाणा अंतरिक्ष उपयोग केंद्र (हरसैक) की जीआईएस लैब जरूरत के हिसाब से सैटेलाइट डेटा का इस्तेमाल कर सकेगी। मैपिंग में सभी सेक्टरों की सड़कों, लाइनों की जियो मैपिंग होगी। वास्तविक स्थान मानचित्र पर अंकित किया जाएगा। योजना के तहत सभी सेक्टरों के नक्शे बाद में पोर्टल पर ऑनलाइन उपलब्ध कराये जायेंगे। इससे आम लोगों को भी पानी और सीवर कनेक्शन मिलने में राहत मिलेगी। पाइप और सड़कों की ज्यादा खुदाई नहीं करनी पड़ेगी। उन्हें पता होगा कि लाइनें कहां और कितनी दूर हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...