HomeLife StyleEntertainmentफरीदाबाद का हार्ले डेविडसन वाला दूधिया सोशल मीडिया पर हो रहा खूब...

फरीदाबाद का हार्ले डेविडसन वाला दूधिया सोशल मीडिया पर हो रहा खूब वायरल

Published on

आमतौर पर एक दूध बेचने वाला सुबह-सुबह अपनी साइकिल या मोटरसाइकिल पर दूध बेचने निकलता है।लोग उससे दूध लेते है और दूध की शिकायतें करते है की दूध में मलाई नही आती या दूध गाढ़ा नही पतला है लेकिन फरीदाबाद में एक ऐसा दुधिया है जिससे लोग दूध के बारे में नही उसकी बाइक के बारे में पूछते है क्योंकि उनकी बाइक है ही इतनी गजब की। जिले के मोहब्बताबाद गांव के रहने वाले दूध विक्रेता अमित भड़ाना से लोग पूछते है कि बाइक कैसी चल रही है, एवरेज कितना देती है, अपने कहा सी बाइक खरीदी?…

दूध खरीदने वाले अमित को देखकर हो जाते है हक्के बक्के

फरीदाबाद का हार्ले डेविडसन वाला दूधिया सोशल मीडिया पर हो रहा खूब वायरल

दरअसल, अमित भड़ाना का दूध का कारोबार है। वे भैंसों का दूध निकालकर घर-घर जाकर बांटते हैं। लेकिन वो छाह गए है अपने दूध बाटने के अंदाज से, वो दूध बांटने के लिए विदेशी मोटरसाइकिल हार्ले डेविडसन पर सवार होते हैं। भारत में इस मोटरसाइकिल की कीमत करीब सात लाख रुपए है। उससे दूध लेने वाले भी मोटरसाइकिल देखकर हैरान रह जाते हैं।

वायरल वीडियो से रातों रात बने स्टार

अमित भड़ाना ने हाल ही में हार्ले डेविडसन मोटरसाइकिल पर दूध के डिब्बे लटकाने का वीडियो बनाया था। इस वीडियो को उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर अपलोड किया है। उनके इस वीडियो को 40 लाख लोग देख चुके हैं। फेसबुक और ट्विटर पर लोग एक-दूसरे को वीडियो के स्क्रीनशॉट भी भेज रहे हैं। लोग उन पर खूब कमेंट कर रहे हैं। इस वीडियो ने उन्हें रातों-रात स्टार बना दिया।


ग्रेजुएटेड है डेविडसन वाला दूधिया

फरीदाबाद का हार्ले डेविडसन वाला दूधिया सोशल मीडिया पर हो रहा खूब वायरल


ग्रेजुएशन तक पढ़े अमित कहते हैं कि वे चाहते तो 20-25 हजार की नौकरी कर सकते थे, लेकिन उन्होंने अपनी मर्जी से दूध का कारोबार चुना। अमित का मानना है कि कोई काम छोटा नहीं होता। उनका कहना है कि वह सुबह-शाम 250 लीटर दूध बेचते हैं। दूध बेचकर वे इतना पैसा कमाते हैं कि किसी कंपनी के मैनेजर को भी तनख्वाह नहीं मिलती।


शौक बड़ी चीज है

फरीदाबाद का हार्ले डेविडसन वाला दूधिया सोशल मीडिया पर हो रहा खूब वायरल

उनका कहना है कि इस मोटरसाइकिल का मालिक होना और उसकी सवारी करना उनके लिए कोई बड़ी बात नहीं है। यह मोटरसाइकिल उन्होंने करीब दो साल पहले गुरुग्राम से खरीदी थी। अमित का कहना है कि कम से कम आठ भैंसों से उनकी मोटरसाइकिल का खर्चा निकल जाएगा। इसे चलाने का खर्चा भी थोड़ा ज्यादा है, लेकिन अमित कहते हैं कि शौक बड़ी चीज है। वे यह अतिरिक्त खर्च उठाने के लिए तैयार हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...