HomeGovernmentHaryana News: हरियाणा में लगा सब्जी एक्सपो, नौकरी छोड़कर खेती से लाखो...

Haryana News: हरियाणा में लगा सब्जी एक्सपो, नौकरी छोड़कर खेती से लाखो रुपए कमाने वाले लोग मिलेंगे

Published on

हरियाणा का अन्नदाता किसानों को मजबूत करने और उन्हें आर्थिक रूप से सक्षम बनाने के प्रधानमंत्री के सपने को पूरा करता दिख रहा है। करनाल के घरौंदा स्थित इंडो इस्राइल वेजिटेबल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस में कृषि की बदलती तस्वीर को सभी ने देखा। नौवें वेजिटेबल एक्सपो का उद्घाटन करनाल सांसद संजय भाटिया ने दीप प्रज्वलित कर किया। राज्य उद्यान विभाग द्वारा आयोजित की जा रही इस सब्जी प्रदर्शनी में 22 जिलों के लगभग 3000 किसान भाग ले रहे हैं। इस एक्सपो में किसानों को तकनीकी सत्र, प्रदर्शनी एवं केन्द्र भ्रमण के साथ ही उन्नत किस्म के बीज, कृषि यंत्र एवं बागवानी से संबंधित प्रदर्शनी के माध्यम से जागरूक किया जा रहा है।

 

विभिन्न प्रकार की सब्जियां देखने को मिली

Haryana News: हरियाणा में लगा सब्जी एक्सपो, नौकरी छोड़कर खेती से लाखो रुपए कमाने वाले लोग मिलेंगे

इस अवसर पर प्रगतिशील कृषकों के सब्जी बीज, कृषि यंत्र एवं उद्यानिकी से संबंधित फर्मों की प्रदर्शनी भी लगाई गई हैं। विभिन्न जिलों के किसानों ने यहां विभिन्न प्रकार की सब्जियां देखीं। रंग-बिरंगी गोभी, बिना मिट्टी के पानी में उगने वाली सब्जियां और तरह-तरह के सब्जियों के उत्पाद देखकर कोई भी आश्चर्यचकित हुए बिना नहीं रह सका। एक्सपो में मशरूम जलेबी बनाने वाला किसान सबके आकर्षण का केंद्र रहा। कई ऐसे युवा किसान भी यहां आए जो नौकरी छोड़कर सब्जी की खेती में लाखों कमा रहे हैं।

 

संजय भाटिया थे मुख्य अतिथि

Haryana News: हरियाणा में लगा सब्जी एक्सपो, नौकरी छोड़कर खेती से लाखो रुपए कमाने वाले लोग मिलेंगे

बता दे इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संजय भाटिया ने किसानों से वेजीटेबल एक्सपो का लाभ उठाने की अपील करते हुए कहा कि तकनीकी सत्र, प्रदर्शनियों और केंद्र भ्रमण के साथ-साथ उन्नत किस्मों के बीज, कृषि यंत्र और बागवानी से संबंधित प्रदर्शनियों के माध्यम से किसानों को जागरूक किया गया, उन्होंने कहा कि मेरा परिवार भी शुरू से ही खेती करता आ रहा है और पारंपरिक तकनीक के अलावा यहां नई उन्नत किस्मों को देखकर मैं भी हैरान हूं। सरकार की नीतियों के कारण आज देश में एक नई कृषि क्रांति की शुरुआत हो रही है। अगर हमें किसानों की आय बढ़ानी है तो उन्हें फसल विविधीकरण की ओर ले जाना होगा। यहां आने वाले किसान अगर इन नई तकनीकों को अपनाकर खेती में इस्तेमाल करें तो न सिर्फ उनकी आमदनी कई गुना बढ़ जाएगी, बल्कि देश की भी बहुत सेवा होगी।

 

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...