HomeCelebsकरोड़ों को संपत्ति के मालिक हैं आज संजय मिश्रा, फिर भी जीते...

करोड़ों को संपत्ति के मालिक हैं आज संजय मिश्रा, फिर भी जीते है साधारण सी जिंदगी

Published on

बॉलीवुड जगत में अपनी एक्टिंग के लिए विख्यात संजय मिश्रा ने छोटे और बड़े पर्दे पर खूब शोहरत और नाम बनाया है। उन्होंने फिल्मों के अंदर सपोर्टिंग रोल ज्यादा करे हैं, परंतु उन्होंने अपनी एक्टिंग टैलेंट से हर किरदार को एक दम रियल बनाया हैं।

हालांकि संजय मिश्रा ज्यादातर अपने कॉमेडी किरदारों के लिए जाने जाते हैं, परंतु कई फिल्मों में उन्होंने गंभीर किरदारों को भी बड़ी संजीदगी से निभाया है।

संजय मिश्रा का प्रारंभिक जीवन

करोड़ों को संपत्ति के मालिक हैं आज संजय मिश्रा, फिर भी जीते है साधारण सी जिंदगी

संजय मिश्रा ने अपने अब तक के करियर में 150 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है। बता दें कि संजय मिश्रा का जन्म 6 अक्टूबर 1963 को बिहार के दरभंगा में हुआ था। उनके पिता शंभुनाथ मिश्रा पेशे से पत्रकार थे।

संजय मिश्रा जब 9 साल के थे तो उनका परिवार वाराणसी शिफ्ट हो गया। उन्होंने अपनी शिक्षा केंद्रीय विद्यालय बीएचयू कैंपस, वाराणसी से करी हैं।

कॉमेडियन एक्टर के रूप में विख्यात

करोड़ों को संपत्ति के मालिक हैं आज संजय मिश्रा, फिर भी जीते है साधारण सी जिंदगी

इसके बाद 1989 में ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद 1991 में उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में एक्टिंग का कोर्स किया। इसके बाद उन्होंने एक्टिंग की दुनिया में कदम रखा। फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखने वाले संजय मिश्रा ने खूब पैसा कमाया, परंतु जमीन से जुड़े रहे। आज भी वह अपने परिवार के साथ बेहद सादा जीवन व्यतीत करते हैं।

करोड़ों को संपत्ति के मालिक हैं आज संजय मिश्रा, फिर भी जीते है साधारण सी जिंदगी

कॉमेडियन एक्टर संजय मिश्रा ने छोटे पर्दे से एक्टिंग की शुरुआत की और फिर फिल्मों में आ गए। संजय मिश्रा ने दिल से, बंटी और बबली, अपना सपना मनी मनी, आंखें देखी, चरण गए रे ओबामा, मिस टनकपुर हाजिर हो, आंखें देखी, प्रेम रतन धन पायो, मेरठिया गैंगस्टर्स, दम लगाके हाश, मसान और कामयाब जैसी फिल्मों में काम किया। , वह हाल ही में रिलीज हुई फिल्म वध में मुख्य भूमिका में हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...