HomeFaridabadफरीदाबाद के ग्रेफ का भूजल पानी 80 फुट तक नीचे धसा, क्या...

फरीदाबाद के ग्रेफ का भूजल पानी 80 फुट तक नीचे धसा, क्या आने वाली पीढ़ी को जल के लिए तरसना पड़ेगा?

Published on

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद भूजल के मामले में डार्क जोन में आती है और भूजल के खत्म होने के कयास लगाए जा रहे हैं। गिरते भूजल के लिए न केवल सरकार व संबंधित विभागों के अधिकारी जिम्मेदार हैं, बल्कि ग्रेटर फरीदाबाद क्षेत्र में बहुमंजिला रिहायशी सोसायटियां बनवा रहे बिल्डर भी उनसे कहीं ज्यादा दोषी हैं। डेढ़ दशक पहले बिल्डरों ने यहां कंक्रीट के जंगल बनाने शुरू किए, लेकिन पानी के उचित प्रबंधन और भंडारण के बारे में कभी नहीं सोचा, स्वार्थ और लालच के चक्कर भूजल का दोहन कर दिया।

 

जलसंरक्षण को कभी न भूले

फरीदाबाद के ग्रेफ का भूजल पानी 80 फुट तक नीचे धसा, क्या आने वाली पीढ़ी को जल के लिए तरसना पड़ेगा?

पानी की आपूर्ति के पूरक के लिए सोसाइटी में बोरवेल स्थापित किए। एक जगह बोरवेल सूखने लगा तो दूसरी जगह नया बोरवेल बन गया। इस प्रकार भूजल का अंधाधुंध दोहन होता चला गया, जो वर्तमान तक जारी है। जीवनयापन के लिए पानी को किसी भी कीमत पर प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन यह क्यों भूल जाते हैं कि जल का उचित उपयोग और संरक्षण भी उतना ही महत्वपूर्ण है। यदि इसके साथ-साथ वर्षा जल संचयन प्रणाली एवं एसटीपी बनाने, उपचारित जल का एसटीपी बनाकर समुचित उपयोग करने की दिशा में भी कार्य किया जाता तो भू-जल स्तर गिरने के बजाय ऊंचा बना रहता।

 

अधूरे रहे जरूरी काम

फरीदाबाद के ग्रेफ का भूजल पानी 80 फुट तक नीचे धसा, क्या आने वाली पीढ़ी को जल के लिए तरसना पड़ेगा?

इस विषय पर सोसाइटी में रहने वाले जागरूक लोगों को भी अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी, क्योंकि उनके सामने अपनी आने वाली पीढ़ियों के लिए जल के समुचित प्रबंधन की चुनौती भी है। हालांकि शासन स्तर पर रेनवेल से पेयजल आपूर्ति की योजना शुरू हो चुकी थी, लेकिन किन्हीं कारणों से लाइन डालने का काम रुकता रहा। अब रेलीवेल डालने का काम पूरा हो चुका है, जबकि भूजल स्तर 60 से 80 फीट नीचे चला गया है।

 

इन सोसायटी में ही नहीं पहुंचा एफएमडीए का पानी

फरीदाबाद के ग्रेफ का भूजल पानी 80 फुट तक नीचे धसा, क्या आने वाली पीढ़ी को जल के लिए तरसना पड़ेगा?

एसआरएस रेजीडेंसी सेक्टर-88, प्रिंसेस पार्क एंड ओजोन पार्क, समर पाम सेक्टर-86, पार्क एंडुरा एंड फ्लोरिडा सेक्टर-82, बीपीटीपी पार्क फ्लोर-2 और एडेल डिवाइन कोर्ट सोसाइटी सेक्टर-76, डिस्कवरी पार्क सेक्टर-80, सेक्टर- 75- 79 प्लॉटेड सोसायटी, ओमेक्स न्यू हाइट्स और ओमेक्स स्पा विलेज सेक्टर-78 समेत कई सोसायटियों में भूजल का दोहन किया जा रहा है।

 

10 वर्षों में 70 से 80 फुट तक नीचे गया भूजल

फरीदाबाद के ग्रेफ का भूजल पानी 80 फुट तक नीचे धसा, क्या आने वाली पीढ़ी को जल के लिए तरसना पड़ेगा?

ग्रेटर फरीदाबाद में 10 साल पहले 130 से 140 फीट पानी उपलब्ध था, लेकिन विभिन्न सोसायटियों में लोगों के बसने के बाद भूजल 70 से 80 फीट नीचे चला गया है। अब 180 से 200 फीट के बाद पानी मिल पाता है। सूरजकुंड क्षेत्र में भूजल स्तर 500 से 700 फीट नीचे है।

 

अभी सभी सोसायटी में नहीं पहुंचा कनेक्शन

फरीदाबाद के ग्रेफ का भूजल पानी 80 फुट तक नीचे धसा, क्या आने वाली पीढ़ी को जल के लिए तरसना पड़ेगा?

नहरपार के 7500 एकड़ में फैले ग्रेटर फरीदाबाद में विभिन्न बिल्डरों द्वारा स्थापित 56 सोसायटियां हैं। इनमें से 40 सोसायटियों में कनेक्शन रिन्यूअल हो चुके हैं, लेकिन इससे मांग पूरी नहीं हो रही है। 2.5 लाख की आबादी वाले क्षेत्र में प्रतिदिन 10 से 12 एमएलडी पानी की आवश्यकता होती है, लेकिन एफएमडीए वर्तमान में केवल पांच एमएलडी पानी ही उपलब्ध करा रहा है। बाकी पानी की जरूरत बोरवेल से पूरी की जाती है। इसके अलावा 16 सोसायटियां ऐसी हैं, जिनमें नवीनीकरण कनेक्शन नहीं किए गए हैं। आरडब्ल्यूए और बिल्डर के बीच विवाद है। इन दोनों के अहंकार की लड़ाई में भूजल स्तर को नुकसान पहुंच रहा है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...