HomeFaridabadबुराइयों से महफूज रखने वाला पिता ही जब बन जाए दरिंदा तो...

बुराइयों से महफूज रखने वाला पिता ही जब बन जाए दरिंदा तो क्या होगा? जानिए एक पिता की दरिंदगी की कहानी जिसने अपने दो बच्चों की बेरहमी से की हत्या

Published on

कहते है जमाना खराब है किसी अनजान पर भरोसा नहीं किया जा सकता लेकिन जब ये पाठ पढ़ाने वाला पिता ही हैवान हो तो, जमाना भी अच्छा लगने लगता है। बीते गुरुवार को ग्राम सीकरी के पास सॉफ्टा कॉलोनी में एक पिता ने अपने मासूम बच्चों की साथ दरिंदगी दिखाई। पिता ने अपने मासूम बेटे व बेटी की कुएं में डूबो कर हत्या कर दी। बेटा छह साल का और बेटी पांच साल की थी। शुरुआती जांच में क्लू मिला कि आरोपी की दूसरी पत्नी को ये बच्चे पसंद नही थे।

 

दूसरी पत्नी के कारण पहले पत्नी के बच्चों को मार डाला

बुराइयों से महफूज रखने वाला पिता ही जब बन जाए दरिंदा तो क्या होगा? जानिए एक पिता की दरिंदगी की कहानी जिसने अपने दो बच्चों की बेरहमी से की हत्या

बता दे, दो साल पहले आरोपी की पहली पत्नी ने ज्वलनशील पदार्थ से खुद को झोंक कर आत्महत्या कर ली थी। पहली पत्नी से उसके बेटा निक्की और बेटी बिंदो थे जिनकी आरोपी ने हत्याकार दी, क्योंकि बच्चों की वजह से दूसरी पत्नी घर में झगड़ा करती थी। पुलिस ने आरोपी को कब्जे में ले लिया है। आरोपी का नाम भगत सिंह है। वह मूल रूप से पलवल के मर्रोली गांव का रहने वाला है। पिछले तीन साल से वह यहां सोफ्ता कॉलोनी में रहकर काम कर रहा था।

 

पिता ने दोनों बच्चों को कुएं में फेका

बुराइयों से महफूज रखने वाला पिता ही जब बन जाए दरिंदा तो क्या होगा? जानिए एक पिता की दरिंदगी की कहानी जिसने अपने दो बच्चों की बेरहमी से की हत्या

डेढ़ साल पहले आरोपी ने पहली पत्नी के रिश्तेदार में आशा नाम की लड़की से शादी कर ली थी। आरोपी की साढू् सोनू ने बताया कि आशा को भगत सिंह की पहली पत्नी के बच्चे पसंद नहीं थे। घर में इन्हें लेकर अक्सर झगड़े होते रहते थे। गुरुवार को भी बच्चों को लेकर झगड़ा हुआ था। गुस्से में भगत सिंह दोनों बच्चों को साथ लेकर घर से निकल पड़ा। घर से करीब 300 मीटर दूर नौ फीट गहरा कुआं है। इसमें पांच फीट तक पानी भरा है। उसने बारी-बारी से दोनों बच्चों को कुएं में डाल दिया। इसके बाद वह खुद भी ऊपर से कूद गया। आशा उसके ठीक पीछे थी। उसने शोर मचाया तो आसपास के लोग जमा हो गए। ऑटो चालक नसीम वहां पहुंचा और बच्चों को बचाने के प्रयास में कुएं में कूद गया। लेकिन तब तक दोनों बच्चों की मौत हो चुकी थी।

 

पिता की हैवानियत ने ली जान

बुराइयों से महफूज रखने वाला पिता ही जब बन जाए दरिंदा तो क्या होगा? जानिए एक पिता की दरिंदगी की कहानी जिसने अपने दो बच्चों की बेरहमी से की हत्या

ऑटो चालक नसीम ने बताया कि भगत सिंह ने हैवानियत की हद पार कर दी। उसने एक बच्चे को कुएं में डुबोकर उसकी गर्दन पर अपना पैर रखा हुआ था। वहीं दूसरे बच्चे को हाथ से डुबाया हुआ था। नसीम ने धक्का देकर उसे बच्चे के ऊपर से हटाया था। बच्चों को बाहर निकालने में धीरेंद्र नाम के व्यक्ति ने भी मदद की, लेकिन दोनों की मौत हो चुकी थी।

 

जांच कर रही पुलिस

बुराइयों से महफूज रखने वाला पिता ही जब बन जाए दरिंदा तो क्या होगा? जानिए एक पिता की दरिंदगी की कहानी जिसने अपने दो बच्चों की बेरहमी से की हत्या

डीसीपी नरेंद्र कादियान का कहना है कि नसीम और धीरेंद्र की शिकायत पर भगत सिंह के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। उसकी पत्नी की भूमिका की भी जांच की जा रही है। अगर बच्चों की हत्या में उसकी भूमिका सामने आई तो उसे भी गिरफ्तार किया जाएगा। बच्चों के मामा नितेश ने बताया कि बहन की मौत के बाद वे दोनों बच्चों को अपने साथ ले गए थे। करीब एक साल उन्होंने बच्चों को अपने पास रखा था। इसके बाद भगत सिंह ने दूसरी शादी कर ली और बच्चों को जबरदस्ती अपने साथ ले आया था। वह मामा-नाना को बच्चों से बात नहीं करने देता था।

Latest articles

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

More like this

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...