HomeFaridabadफरीदाबाद के नो तालाबों का नवीनीकरण करके भूजल में किया जाएगा सुधार,...

फरीदाबाद के नो तालाबों का नवीनीकरण करके भूजल में किया जाएगा सुधार, नगर निगम जल संरक्षण को लेकर उठा रहा कदम

Published on

नगर निगम तालाबों का जीर्णोद्धार कर उन्हें आधुनिक रूप देगा और लोगों को वॉकिंग ट्रैक की सुविधा उपलब्ध करायेगा। इसके लिए निगम ने नौ तालाबों के जीर्णोद्धार का टेंडर जारी कर दिया है। इसके साथ ही पहले से चल रहे तीन तालाबों का काम भी उन्होंने पूरा करना शुरू कर दिया है। तालाबों में पानी अधिक जमा होने से भूजल स्तर में सुधार होगा। राज्य सरकार जल संरक्षण पर काम कर रही है। इसके तहत तालाबों के जीर्णोद्धार की योजना है। ताकि तालाबों का पुराना स्वरूप लौटाया जा सके। वर्तमान में शहरी क्षेत्रों में तालाबों की स्थिति अच्छी नहीं है।

 

तालाबों के जीर्णोद्धार की योजना

फरीदाबाद के नो तालाबों का नवीनीकरण करके भूजल में किया जाएगा सुधार, नगर निगम जल संरक्षण को लेकर उठा रहा कदम

कई जगह अतिक्रमण और गंदगी की समस्या है। ऐसे में नगर निगम क्षेत्र में छोटे-बड़े तालाबों को चरणबद्ध तरीके से विकसित करने की योजना है। पहले बड़े तालाब विकसित करने की योजना है। इनका स्टीम तैयार कर हरियाणा तालाब एवं अपशिष्ट जल प्रबंधन प्राधिकरण को भेजा गया। स्वीकृति मिलने के बाद नगर निगम द्वारा टेंडर लगाने की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। तालाबों के जीर्णोद्धार से गिरते भूजल स्तर को सुधारने में मदद मिलेगी। जिले में भूजल का अंधाधुंध उपयोग किया जा रहा है। भूजल का उपयोग पीने के पानी के अलावा अन्य उद्देश्यों के लिए किया जाता है। जिले में हर साल दो से दो फीट पानी नीचे जा रहा है। ऐसे में तालाबों में पानी जमा होने से भूजल स्तर को बढ़ाने में मदद मिलेगी।

 

तालाबों को खोदकर गहरा किया जाएगा

फरीदाबाद के नो तालाबों का नवीनीकरण करके भूजल में किया जाएगा सुधार, नगर निगम जल संरक्षण को लेकर उठा रहा कदम

योजना के मुताबिक सीही व बुढेरा गांव के तीन तालाबों पर काम चल रहा है। इसके बाद तीन बजरी तालाब, बुढेरा का एक तालाब, डबुआ व गोंची के दो तालाबों का जीर्णोद्धार किया जाएगा। इसके बाद गाजीपुर में दो, गौची में एक, झारसेटली में दो, सराय ख्वाजा, शेखपुरा और वजीरपुर में एक-एक तालाब पर काम किया जाएगा। इसके अलावा नंगला गुजरां, मुजेडी, नवादा तिगांव, सोतई, तिलपत, ऊंचागांव और अनंगपुर शामिल हैं। तालाब खोदे जाएंगे ताकि पहले से ज्यादा पानी जमा हो सके। लोगों के चलने के लिए तालाब के चारों ओर वॉकिंग ट्रैक बनाया जाएगा। पौधे और स्ट्रीट लाइट की भी व्यवस्था होगी। नगर निगम के कार्यपालन यंत्री ओम दत्त ने बताया कि निगम में शामिल 24 गांवों के तालाबों का भी सुधार किया जा रहा है। इसमें गांव बधौली, बादशाहपुर गांव, भटोला और खेड़ी कला के तालाबों की सफाई के लिए टेंडर जारी कर दिया गया है। इसके बाद जीर्णोद्धार के लिए भाप बनाई जाएगी। जिले के 72 तालाबों का सुधार किया जाना है।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...