HomeFaridabadबैंक से निजात पाने के लिए लोगों ने 2000 के नोटों को...

बैंक से निजात पाने के लिए लोगों ने 2000 के नोटों को बदलने के लिए निकाला यह देसी जुगाड़।

Published on

₹2000 के नोटों का चलन बाहर होने के बाद ज्वेलरी मार्केट कारोबारियों का कहना है कि नोट खपाने के लिए सोने के आभूषण की खरीदारी और उनका भाव पता करने वाले ग्राहकों की संख्या इजाफा हुआ है।


रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने 2000 के नोट के चलन को बंद कर दिया और साथ ही नोट को वापस लेने का फैसला लिया है। इसके साथ अगर आम आदमी के पास 2000 के नोट जमा है तो उन्हें या तो बैंक अकाउंट में डिपाजिट कराने होंगे या तूने बदलवाने होंगे और इसका समय 23 मई से 30 सितंबर तक है।


रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के अनुसार आप अपने नजदीकी ब्रांच में जाकर 2000 के नोटों को अन्य नोटों में आसानी से जमाया बदलवा सकते हैं, लेकिन आप एक बार में सिर्फ 10 नोट ही बदलवा सकते हैं। इसका मतलब है एक बार में नोट बदलवाने के लिमिट ₹20000 है। परंतु अकाउंट में ₹2000 के नोट जमा कराने की कोई भी लिमिट नहीं है।

बैंक से निजात पाने के लिए लोगों ने 2000 के नोटों को बदलने के लिए निकाला यह देसी जुगाड़।


आम लोगों ने दो हजार नोटों का इस्तेमाल करके अन्य नोट जैसे 500, 200 में बदलने का कोई ऐसा तरीका ढूंढ निकाला, जिससे आपको बैंक में जाने की जरूरत ही नहीं होगी। कोई कैश पेमेंट कर खरीदारी कर रहा है तो कोई ज्वेलरी खरीद रहा है और कोई पेट्रोल पंप पर नोट देकर उसके बदले 100 से ₹200 का फूल लेकर नोटों को बदलवा रहा है।

आइए बताते हैं आपको नोट बदलवाने का देसी जुगाड़!

बैंक से निजात पाने के लिए लोगों ने 2000 के नोटों को बदलने के लिए निकाला यह देसी जुगाड़।

आरबीआई द्वारा 2000 के नोट को वापस लेने के फैसले के बाद अब कई लोग ऐसे हैं जिनके पास 2000 के नोट बदलवाने के लिए पेट्रोल पंप का सहारा ले रहे हैं और ऐसा देखा जा रहा है कि लोग भले ही 100, 200 का फ्यूल बनवा रहे हैं, लेकिन पेट्रोल पंप पर जाकर ₹2000 का नोट दे रहे हैं। इस तरह नोट खपाने के चलते पेट्रोल पंप की वृद्धि हो गई है। ऑल इंडिया पेट्रोल पंप डीलर एसोसिएशन के मुताबिक पहले 2000 के नोटों के जरिए महज 10 प्रतिशत ही कैश पेमेंट होता था, जो बढ़कर 90% हो गया है। इसके चलते डिजिटल पेमेंट में गिरावट आई है।

₹2000 के नोटों के चलन से बाहर होने के बाद सोने चांदी की खरीदारी में बढ़ोतरी देखी जा रही है। इस दौरान खासकर महिलाएं अपने पास जमा दो हजार के नोटों को लेकर सोना चांदी खरीदने जा रही है। ज्वैलर मार्केट में कारोबारियों का  कहना है कि नोट खपाने के लिए सोने के आभूषणों की खरीदारी और उनका भाव पता करने वाले ग्राहकों की संख्या में इजाफा हुआ है। साथ ही सोने चांदी की कीमतों में उतार-चढ़ाव के बीच खरीदारी में तेजी आ रही है।

अब जैसे आरबीआई ने यह साफ किया है कि 2000 रुपए की नोट का इस्तेमाल लेनदेन के लिए कर सकते हैं। तब से लोग ऑनलाइन ऑर्डर की पेमेंट भी कैश ऑन डिलीवरी का ऑप्शन तेजी से चुन रहे है। फूड  ग्रॉसरी से लेकर कपड़ों की शॉपिंग तक की कैश पेमेंट की जा रही है।  2000 रुपए के नोटों का इस्तेमाल बड़ी तेजी से किया जा रहा है।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...