HomeFaridabadफरीदाबाद: अरावली हिल्स से बनी प्राकृतिक बड़खल झील में पानी लाने का...

फरीदाबाद: अरावली हिल्स से बनी प्राकृतिक बड़खल झील में पानी लाने का ट्रायल रहा सफल, जानिए पूरी खबर।

Published on

अरावली की वादियों में बने प्राकृतिक बड़खल झील में पानी लाने का ट्रायल सफल रहा। ए सेक्टर 21 के सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट से बड़खल झील तक क्रिएट किया हुआ पानी पहुंचाया गया। प्रधान मिनट तक पाइप से पानी निकल कर झील की तरफ गया। इसके बाद स्थिति को बंद कर दिया गया। इस दौरान पानी तेज गति से भीड़ में गिर तथा स्थानीय विधायक सीमा त्रिखा ने अपने फेसबुक पेज पर भी इसका एक वीडियो शेयर कर लोगों को बताया कि झील तक पानी पहुंचाने का ट्रायल शुरू हो चुका है। इसी तरह से बीच-बीच में ट्रायल रन होते रहेंगे और अब झील के आसपास बांध और सौंदर्यीकरण का काम तेज कर दिया जाएगा।

फरीदाबाद: अरावली हिल्स से बनी प्राकृतिक बड़खल झील में पानी लाने का ट्रायल रहा सफल, जानिए पूरी खबर।

बड़खल झील को पानी से लबालब भरने के लिए आईआईटी रुड़की के विशेषज्ञों ने राय दी कि इसके लिए सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाया जाए जहां पर पानी क्रिएट कर झील तक पहुंचाया जाएगा। साल 2019 में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का काम सेक्टर 21 में शुरू किया गया था। इससे साल 2022 में पूरा कर लिया गया है। एसटीपी से लेकर झील तक कुल 4 किलोमीटर तक लंबी पाइपलाइन बिछाई गई है, जिसके अंदर पानी झील तक पहुंचेगा।

फरीदाबाद: अरावली हिल्स से बनी प्राकृतिक बड़खल झील में पानी लाने का ट्रायल रहा सफल, जानिए पूरी खबर।

स्मार्ट सिटी की लिमिटेड टीम ने जब 10 दिन पहले ट्राई किया था तो पानी की लाइन में दो जगह पर लीकेज का पता चला था, जिसके बाद फाइल रोककर लीकेज ठीक करने पर काम का शुरू किया गया। लीकेज ठीक करने के बाद फिर से मंगलवार को ट्रायल किया गया जिसमें पानी झील तक पहुंच गया। 15 मिनट तक पानी पाइप के जरिए झील तक पहुंचाया गया एसपी को बंद कर दिया गया।

फरीदाबाद: अरावली हिल्स से बनी प्राकृतिक बड़खल झील में पानी लाने का ट्रायल रहा सफल, जानिए पूरी खबर।

एसटीपी में हर रोज 10 एमएलडी पानी 5 बी ओ डी मात्रा तक ट्रीट होगा। इस पानी को हर रोज पाइप के जरिए झील तक पहुंचाया जाएगा। झील को 300 दिन में 6 मीटर ऊंचाई तक पानी से भर दिया जाएगा। इसके बाद एसटीपी से हर रोज केवल 3 एमएलडी पानी की झील के अंदर डाला जाएगा। बाकी के बचे हुए 7 एमएलडी पानी के शहर के अन्य कामों में इस्तेमाल कर दिए जाएंगे। स्मार्ट सिटी लिमिटेड के एक अधिकारी ने बताया कि अमेरिका में सबसे ज्यादा सीक्वेंशियल बैच रिएक्टर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है।

फरीदाबाद: अरावली हिल्स से बनी प्राकृतिक बड़खल झील में पानी लाने का ट्रायल रहा सफल, जानिए पूरी खबर।

जिससे पानी को साफ कर देता है। फिलहाल इस वक्त झील के चारों तरफ काम चल रहा है। जब सारे निर्माण कार्य पूरी तरह से खत्म हो जाएगा तो उसके बाद पानी से झील को भरने का कार्य शुरू किया जाएगा।

विधायक सीमा त्रिखा ने बताया कि झील तक पानी पहुंचाने के लिए जो डायल किया गया था, वह कामयाब रहा और झील में पानी पहुंच गया। अब जिस जगह पानी गिर रहा है, वहां पर एक झरना तैयार किया जाएगा। इसके लिए अधिकारियों के साथ चर्चा शुरू हो चुकी है।

फरीदाबाद: अरावली हिल्स से बनी प्राकृतिक बड़खल झील में पानी लाने का ट्रायल रहा सफल, जानिए पूरी खबर।

फरीदाबाद के डीसी विक्रम सिंह ने कहा कि बड़खल झील में एसटीपी का पानी पहुंचने का ट्रायल शुरू कर दिया है और कुछ मिनट के लिए ही पानी पहुंचाया गया था।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...