HomeFaridabadफरीदाबाद के नालों में इतनी है गंदगी, की बारिश में तय हैं...

फरीदाबाद के नालों में इतनी है गंदगी, की बारिश में तय हैं जलभराव, जानें पूरी खबर।

Published on

मानसून सिर पर शहर के प्रमुख नाले गंदगी से भरे पड़े हैं। पिछले सप्ताह हुई हल्की बारिश के बावजूद कई जगहों पर जलभराव के कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। इसके बावजूद नगर निगम ने सबक लेने को तैयार नहीं है। मौसम विभाग के दावों की मानें तो प्री मानसून 15 दिन में हरियाणा में प्रवेश कर जाएगा।

जिसके बाद बारिश शुरू हो जाएगी और अगर नगर निगम ने जल्द सफाई नहीं कराई तो मॉनसून में लोगों को फिर जलभराव से जूझना पड़ेगा। स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में छोटे-बड़े करीब 70 नाले है। इनकी लंबाई करीब 120 किलोमीटर है। नगर निगम 6 महीने पहले भी के नीलम चौक रेलवे रोड, नेहरू ग्राउंड एसजीएम नगर,  सरपंच चौक इन सभी जगहों पर नालों की सफाई करा चुका है परंतु सफाई के बाद निकाली गई सिल्ट वही पर छोड़ दी जो कि वापस से नालों में भर चुकी है।

फरीदाबाद के नालों में इतनी है गंदगी, की बारिश में तय हैं जलभराव, जानें पूरी खबर।

नाली से निकाली गई सिल्ट और कचरा अभी तक नालों में अटका हुआ है जिसकी वजह से पिछले सप्ताह हुई। बारिश में 3 दिनों तक सड़कों पर पानी जमा रहा था। इस बार झमाझम बारिश हुई थी। शहर के सेक्टर कॉलोनी में जलभराव से फिर लबालब हो जाएंगे।

एनआईटी के नीलम चौक के बीच सड़क के दोनों तरफ नाले बन चुके हैं जो कि करीब 1 साल से नगर निगम ने जेसीबी से सफाई कराई थी। लेकिन यहां भी सफाई कराने के बाद सिल्ट को उठाया नहीं गया। इस कारण वश वह वापस से नालों में बह गई। दोनों तरफ के नाले गंदगी और कचरे से भरे हुए हैं। यदि बारिश हुई तो झमाझम जलभराव की समस्या से लोगों को एक बार फिर से जूझना पड़ेगा।

फरीदाबाद के नालों में इतनी है गंदगी, की बारिश में तय हैं जलभराव, जानें पूरी खबर।

गोछी ड्रेन एनआईटी विधानसभा की कई कॉलोनियों और सेक्टरों से होकर गुजरती है। हर साल मॉनसून के समय ट्रेन का पानी ओवरफ्लो होकर बाहर आ जाता है जिसकी वजह से सेक्टर कॉलोनियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। हर साल नगर निगम की ओर से इसकी सफाई करीबन 1 महीने पहले ही करा दी जाती है। इस बार नहीं कराई गई।

बीके से ओल्ड फरीदाबाद चौक के बीच बने नालों में अभी भी प्लास्टिक और कचरा भरा हुआ है। पिछले दिनों नगर निगम की ओर से कराई गई सफाई  केवल खानापूर्ति तक सीमित रही। इस कारण यह नाले गंदगी से और क्यों हो रहे हैं। मूसलाधार बारिश हुई तो कचरा पानी से बाहर आने लगेगा और नाले उफान मारने लगेंगे।

फरीदाबाद के नालों में इतनी है गंदगी, की बारिश में तय हैं जलभराव, जानें पूरी खबर।

नगर निगम के मुख्य अभियंता बीके कर्दम का कहना है कि मॉनसून से पहले सभी मुख्य नालों की सफाई की तैयारी कर ली गई है। सभी जोन के कार्यकारी अभियंता को आदेश दे दिया गया है कि वह सफाई के लिए प्रस्ताव तैयार करें जिससे सफाई का काम चल शुरू हो सके।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...