HomeFaridabadशहर के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बदमाशों ने उठाया आतंक, यहां जानें...

शहर के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बदमाशों ने उठाया आतंक, यहां जानें कैसे

Published on

इस वक्त शहर के कई क्षेत्रों में बाढ़ आई हुई है, ऐसे में वहां रहने वाले लोग अपनी जान बचाने के लिए अपना घर छोड़ कर भाग रहे हैं। एक तरफ जहां लोग अपनी जान बचाने के लिए अपना ही घर छोड़कर भाग रहे हैं, वहीं दूसरी ओर बदमाशों ने आतंक उठाया हुआ है। वह इन घरों में चोरियां कर रहे है।

शहर के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बदमाशों ने उठाया आतंक, यहां जानें कैसे

लोगों को जब इस बात का पता चला तो उन्होंने इसकी शिकायत डीसी से करी। लोगों की शिकायत पर डीसी ने पुलिस कमिश्नर को प्रभावित क्षेत्रों में पेट्रोलिंग बढ़ाने और सभी एसडीएम को वहां पर कैंप करने के आदेश दिए हैं और साथ ही कहा है कि यमुना से सटे गांव में ठीकरी पहरा लगाएं।

शहर के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बदमाशों ने उठाया आतंक, यहां जानें कैसे

बता दें कि बीते शुक्रवार की सुबह डीसी विक्रम सिंह ने बसंतपुर गांव का दौरा किया था, जहां पर उन्होंने दिल्ली के DM से बात करके बाढ़ क्षेत्र से बिजली के कनेक्शन हटवाए थे। बसंतपुर गांव के साथ ही डीसी ने यमुना तटबंध का भी दौरा किया था, जिसके बाद उन्होंने कमजोर हुए तटबंध पर पत्थर और रेत के कट्टे लगवाए।

शहर के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बदमाशों ने उठाया आतंक, यहां जानें कैसे

जानकारी के लिए बता दें कि बीते गुरुवार की रात को एनडीआरएफ और एसडीआरएफ ने करीब ढाई हजार से ज्यादा लोगों को बाढ़ में से सुरक्षित निकाला है, उससे पहले भी 1500 लोग रेस्क्यू किए गए हैं। इसी के साथ बता दें कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के लोगों के लिए स्वास्थ्य विभाग की 25 टीमों का गठन किया गया है।

जिससे कोई भी बाढ़ पीड़ित कंट्रोल रूम के नंबर 70153 98108 पर कॉल करके स्वास्थ्य संबंधित व एंबुलेंस की सहायता ले सकता है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...