HomeEducationअधिकारियों की लेट लतीफी की वज़ह से आठ साल बाद भी फरीदाबाद...

अधिकारियों की लेट लतीफी की वज़ह से आठ साल बाद भी फरीदाबाद के इन दो नर्सिंग कॉलेज का काम नहीं हुआ पूरा

Published on

साल 2015 में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शहर के नर्सिंग करने वाले छात्रों को तोहफा देते हुए शहर में दो नर्सिंग कॉलेज बनाने की घोषणा की थी। लेकिन साल 2023 तक भी उनकी इस घोषणा पर अमल नहीं किया गया है। अभी भी इन नर्सिंग कॉलेज का निर्माण कार्य पूरा नहीं हुआ है, बता दें कि यह नर्सिंग कॉलेज बल्लभगढ़ के दयालपुर और अरुआ गांव में बनने हैं।

अधिकारियों की लेट लतीफी की वज़ह से आठ साल बाद भी फरीदाबाद के इन दो नर्सिंग कॉलेज का काम नहीं हुआ पूरा

साल 2015 से ही इन दोनों नर्सिंग कॉलेजों का निर्माण कार्य कछुए की गति से चल रहा है। इन दोनों कॉलेजों के निर्माण का बजट 60 करोड़ रूपए रखा गया था, लेकिन धीमी गति के कारण इनका बजट 7 करोड़ रूपए और बढ़ गया है। इस बड़े हुए बजट पर हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण का कहना है कि यह बजट प्रोजेक्ट के डिजाइन में बदलाव की वजह से बड़ा है। क्योंकि पहले कॉलेजों में लैब और कुछ जरूरी सुविधाएं शामिल नहीं थी, लेकिन अब यह सभी सुविधाएं शामिल है।

अधिकारियों की लेट लतीफी की वज़ह से आठ साल बाद भी फरीदाबाद के इन दो नर्सिंग कॉलेज का काम नहीं हुआ पूरा

हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों का कहना है कि यदि सरकार इस फंड को जल्द से जल्द उन्हें दे देती है, तो वह इन दोनों कॉलेजों का निर्माण कार्य दिसंबर तक पूरा कर देंगे। जानकारी के लिए बता दें कि इन दोनों नर्सिंग कॉलेजों में छात्रों के लिए हॉस्टल, प्राचार्य और अध्यापकों के निवास की भी सुविधा दी गई है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...