HomeFaridabadअब इन नामों से जानें जाएंगे फरीदाबाद के ये विद्यालय, शहीदों को...

अब इन नामों से जानें जाएंगे फरीदाबाद के ये विद्यालय, शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए बदले गए नाम

Published on

देश की रक्षा करने के लिए आए दिन कोई न कोई सेनानी शहीद हो ही जाता हैं। उनकी इस कुर्बानी को याद रखने के लिए हम उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं, उनके नाम से संस्थान आदि बनवाते हैं। लेकिन इस बार प्रदेश सरकार ने इन वीर शहीदों को एक अनोखे तरीके से श्रद्धांजलि दी है।

अब इन नामों से जानें जाएंगे फरीदाबाद के ये विद्यालय, शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए बदले गए नाम

दरअसल प्रदेश सरकार ने इस बार प्रदेश के कुछ राजकीय स्कूलों के नाम शहीदों के नाम पर रख दिए हैं। जिनमें से 7 स्कूल फरीदाबाद के भी हैं। फरीदाबाद के इन 7 स्कूलों के नाम बदलने के लिए जिला आयुक्त ने आदेश जारी कर दिए हैं। अब से इन सभी स्कूलों को जल्द ही इनके बदले हुए नाम से जाना जाएगा।

अब इन नामों से जानें जाएंगे फरीदाबाद के ये विद्यालय, शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए बदले गए नाम

जैसे राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कौराली को अब बलिदानी देवेंद्र सिंह भाटी के नाम से जाना जाएगा, ठीक इसी प्रकार मोहना के राजकीय विद्यालय को बलिदानी वीरेंद्र कुमार के नाम से, सागरपुर के राजकीय विद्यालय को बलिदानी सैनिक चंदीराम के नाम से, राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सेक्टर 22 को बलिदानी पायलट लेफ्टिनेंट राजेश थापा के नाम से, राजकीय हाई स्कूल चांदपुर को बलिदानी हवलदार महिपाल, सोतई विद्यालय को शहीद नायक रघुबीर सिंह, मच्छर विद्यालय को शहीद सेकेंड लेफ्टिनेंट राजेंद्र सिंह नागर के नाम से, राजकीय प्राथमिक विद्यालय शाहजहांपुर को बलिदानी मनोज भाटी नायक के नाम से जाना जाएगा।

इस पर जिला शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल का कहना है कि,” विद्यालयों के नाम बदलने के लिए उन्हें ऊपर से आदेश मिले हैं, वह आदेश के अनुसार ही काम करेंगे। बलिदानियों के नाम से बच्चे निडर बनेंगे, उन्हें प्रेरणा मिलेगी।”

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...