HomeFaridabadफरीदाबाद के इस बड़े उद्योगपति ने ली दुनिया से विदा, औद्योगिक नगरी...

फरीदाबाद के इस बड़े उद्योगपति ने ली दुनिया से विदा, औद्योगिक नगरी में छाया मातम

Published on

फरीदाबाद के सबसे बड़े उद्योगपति गुंजन लखानी ने मात्र 50 साल की उम्र में ही बुधवार की शाम को दुनिया से अलविदा कह दिया। गुंजन लखानी देश की प्रमुख जूता निर्माता कंपनी लखानी अरमान ग्रुप के चेयरमैन केसी लखानी के बेटे और ग्रुप के निदेशक थे। बता दे‌ कि गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में उन्होंने अपनी अंतिम सांस ली। गुरुवार को अंजरौदा मोड पर स्थित स्वर्गाश्रम में उनका अंतिम संस्कार किया गया।

फरीदाबाद के इस बड़े उद्योगपति ने ली दुनिया से विदा, औद्योगिक नगरी में छाया मातम

उनके निधन पर FIA के निवर्तमान प्रधान बीआर भाटिया, पूर्व प्रधान नवदीप चावला, DLF इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के प्रधान जेपी मल्होत्रा, उद्योगपति रोटेरियन HL भूटानी, रोटेरियन राज भाटिया, उद्योगपति MP रूंगटा, FCCI के प्रधान HK बत्रा, महासचिव रोहित रूंगटा, आल इंडिया फोरम आफ MSME के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम सुंदर कपूर, मानव रचना शिक्षण संस्थान के अध्यक्ष डा. प्रशांत भल्ला, उपाध्यक्ष डा. अमित भल्ला, निगम के 20 महानिदेशक डा. एनसी वधवा और खेल निदेशक सरकार तलवाड़ ने शोक व्यक्त किया है।

फरीदाबाद के इस बड़े उद्योगपति ने ली दुनिया से विदा, औद्योगिक नगरी में छाया मातम

जानकारी के लिए बता दें कि साल 1982 से ही जूता मार्केट में लखानी जूतों की अपनी ही एक अलग पहचान हैं, क्योंकि यह एक स्वदेसी ब्रांड हैं। 90 के दशक से ही वह लोगों के दिलों पर राज कर रही हैं। आज भी लखानी ब्रांड के फुटवेयर लोगों के Favourite हैं। इस वक्त देश के कई राज्यों में कंपनी के मैन्युफैक्चरिंग प्लांट मौजूद हैं। यह कंपनी हर साल स्पोर्ट्स शूज, लैदर शूज, कैनवस शूज और EVA स्लिपर्स के 55.5 मिलियन जोड़े बनाती हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...