HomeFaridabadक्या Faridabad में केवल 90 लोगों के पास ही है पालतू कुत्ते,...

क्या Faridabad में केवल 90 लोगों के पास ही है पालतू कुत्ते, यहां जानें क्या हैं पूरी ख़बर

Published on

फरीदाबाद के लोगों का स्टैंडर्ड के हिसाब से यदि एक सर्वे कराया जाए, कि कितने लोगों के पास महंगे पालतू कुत्ते है। तो उसे सर्वे में करीबन 2 से 3 लाख ऐसे पाए जाएंगे जिनके पास पालतू कुत्ते होंगे। लेकिन पालतू कुत्तों का पंजीकरण शहर में केवल 90 लोगों ने ही कराया है। दरअसल कुछ समय पहले नगर निगम में एक नियम लागू किया था कि शहर में जितने भी लोगों के पास पालतू कुत्ते है वह 1500 रुपए देखकर अपने कुत्ते का पंजीकरण कराएंगे।

क्या Faridabad में केवल 90 लोगों के पास ही है पालतू कुत्ते, यहां जानें क्या हैं पूरी ख़बर

लेकिन 26 लाख की आबादी में से केवल 90 लोग ही ऐसे हैं जिन्होंने अपने कुत्तों का पंजीकरण कराया है।‌ लोगों का यह हाल जब है, जब नगर निगम ने सख्ती बरतते हुए, लोगों को आदेश दिया था कि यदि किसी कुत्ते का पंजीकरण नहीं मिला तो उसे पर 15‌ हजार रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। बता दे की कुत्तों का पंजीकरण आवेदन करने के बाद 15 दिनों के अंदर ही हो जाता है।

क्या Faridabad में केवल 90 लोगों के पास ही है पालतू कुत्ते, यहां जानें क्या हैं पूरी ख़बर

हालांकि निगमायुक्त ए. श्रीनिवास कुत्तों के पंजीकरण को लेकर गंभीर हो गई है, उन्होंने इसके लिए स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रभजोत कौर को आदेश दिए हैं कि वह एक टीम बनाएं और बिना पंजीकरण के कुत्ता पालने वालों का चालान करें।

इस पर और जानकारी देते हुए नगर निगम की स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रभजोत को ने बताया कि,” लोग अपने पालतू कुत्ते का पंजीकरण करवा लें। अगर बिना पंजीकरण के कहीं पालतू कुत्ता मिला, तो मालिक का 15 हजार रुप का चालान किया जाएगा। मालिक इस बात का ध्यान रखें कि पालतू कुत्ते सड़क पर शौच करते नजर न आएं। ऐसे में मालिक का 500 रुपये का चालान किया जाएगा। इस मामले में अगले सप्ताह से सख्ती बरती जाएगी।”

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...