HomeFaridabadFaridabad की एक ऐसी झील जो है लोगो के खून की प्यासी,...

Faridabad की एक ऐसी झील जो है लोगो के खून की प्यासी, यहां जानें क्या हैं इस खूनी झील का रहस्य

Published on

हमारे Faridabad में देखने के लिए एक से बढ़कर एक जगह हैं, जिनमें से कुछ जगह प्राकृतिक है तो कुछ जगह मनुष्य द्वारा निर्मित है। वैसे प्रकृति की खूबसूरती की अपनी ही बात होती है प्रकृति की खूबसूरती लोगों को अपनी तरफ इस तरह मोहित करती है कि वह सब कुछ भूल जाते हैं।

एक तरफ़ जहां प्रकृति की खूबसूरती अपनी तरफ मोहित करती है वहीं दूसरी तरफ यह खूबसूरती लोगों की जान भी ले लेती है। जैसे हरियाणा की अरावली की पहाड़ियों में बसी खूनी झील, जो दिखने में जितनी सुंदर हैं, वह जान के लिए उतनी ही जानलेवा है। माना जाता है कि यह खूनी झील बरसों से लोगों के खून की प्यासी है।

Faridabad की एक ऐसी झील जो है लोगो के खून की प्यासी, यहां जानें क्या हैं इस खूनी झील का रहस्य

इस खूनी झील की रहस्यमई कहानी सुनकर आज भी लोगो की रूह कांप जाती हैं। एक तरफ़ ये झील लोगो के लिए एक कुदरत का करिश्मा हैं, वहीं दूसरी ओर ये झील लोगो के लिए किसी अभिशाप से भी कम नहीं है। लोग इस झील को देखने से पहले सौ बार सोचते हैं, क्योंकि एक बार जो इस झील में चला जाता है वो कभी लौट के वापस नहीं आता।

अरावली की पहाड़ियों में बसी ये खूनी झील बरसों से सैकड़ों लोगो को अपनी प्यास का शिकार बना चुकी है। इस झील में मरने वाले लोगों का रहस्य आज तक कोई भी नहीं समझ पाया हैं। इस झील को अब Death Valley के नाम से जाना जाता है।

Faridabad की एक ऐसी झील जो है लोगो के खून की प्यासी, यहां जानें क्या हैं इस खूनी झील का रहस्य

यहां के स्थानीय निवासियों का कहना है कि, साल 1990 तक अरावली की पहाड़ियों में बीना किसी रोक टोक के खूब खनन होता था। लेकिन साल 1991 में हरियाणा सरकार ने यहां पर होने वाले खनन पर रोक लगा दी। सरकार द्वारा रोक लगाने के बाद यहां पर आधा दर्जन से ज्यादा खदाने भूजल को छू गई।

जिसके कारण यहां प्राकृतिक रूप से नीले रंग के पानी का एक फुहारा बन गया, इस फुहारे ने धीरे-धीरे एक विशालकाय झील का आकार धारण कर लिया। बता दे कि ये खूनी झील भी 7 खदानों का ही एक संग्रह है। इस झील में अब तक 100 से भी ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

फरीदाबाद जिला प्रशासन ने इस झील में नहाने पर प्रतिबंध भी लगा रखा है, लेकिन कुछ लोग सरकार के इस आदेश को नजरंदाज करते हैं और मौत का शिकार हो जाते हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...