Homeपानी को तरस रहे 1200 परिवार, कुछ तो हल निकालो सरकार।

पानी को तरस रहे 1200 परिवार, कुछ तो हल निकालो सरकार।

Array

Published on

पानी की दिक्कत फरीदाबाद निवासी अनंत काल से झेलते ही आये हैं। पीने का साफ़ और स्वच्छ पानी हर व्यक्ति का अधिकार है फिर भी पानी की किल्लत के विषय में सरकार कभी गंभीरता से विचार नहीं करती। फ्रेंड्स कॉलोनी में पिछले 17 दिन से पानी की सप्लाई बंद है जिसका कारण बताया जा रहा है कि जिस ट्यूबवेल से इस इलाके का पानी सप्लाई किया जाता था दरअसल वो ट्यूबवेल ही ख़राब है।

बता दें कि कॉलोनी में 7 ट्यूबवेल लगाए गए हैं जिसमें से मात्र 4 ही ट्यूबवेल काम करते हैं और अन्य ट्यूबवेल खराब पड़े हैं। गंभीरता का विषय यह है कि कॉलोनी में 1200 परिवार पल रहे हैं जिनको पानी की इस दिक्कत के चलते दर-दर भटकना पद रहा है।

पानी को तरस रहे 1200 परिवार, कुछ तो हल निकालो सरकार।

इतना ही नहीं, निगम के अधिकारियों का लापरवाह रवैया लोगों की इस परेशानी को और बढ़ा रहा है। यहाँ रह रहे लोगों की मानें तो सैक्टर 21-ए स्थित बूस्टर से सप्लाई होने वाले पानी का प्रेशर बहुत ही काम रहता है जिसके कारण पीछे से पानी छोड़ा तो जाता है पर कॉलोनी के लोगों तक पहुँचता ही नहीं।

पानी को तरस रहे 1200 परिवार, कुछ तो हल निकालो सरकार।

स्थानीय निवासी कुछ रुपये इक्कठे करके रोज़ाना 600 रुपये का एक पानी का टैंकर मंगवाते जिससे यहाँ के लोग पानी की आपूर्ति से लड़ पाते हैं। पर सवाल यह उठता है कि यहां रह रहे लोग इतने सक्षम नहीं कि रोज़ का 600 रुपये पानी के टैंकर में खर्च कर सकें। स्थानीय निवासी मजदूरी म्हणत करके अपना घर चलने वाले लोग हैं जिनके लिए 1 दिन का 600 रुपये महीने भर का बजट हिला देता है। पूछने पर इनमें से एक व्यक्ति ने बताया कि यह लोग पहले भी कई बार पानी की इस समस्या को लेकर नगर निगम के अधिकारियों के पास गए हैं पर फिर भी इनकी समस्या का अभी तक कोई समाधान नहीं निकाला गया है।

पानी को तरस रहे 1200 परिवार, कुछ तो हल निकालो सरकार।

नगर निगम के एक्सईएन ओ.पी. कर्दम का इस समस्या को ले कर यह कि गर्मी के कारण पानी की मांग सप्लाई से अधिक है और यही वजह है कि स्थानीय निवासियों को भरपूर पानी नहीं मिल पा रहा। सम्बंधित कर्मचारी भेज कर समस्या का जल्द ही हल निकाला जायेगा और लोगों की परेशानी दूर की जाएगी।

Written By- MITASHA BANGA

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...