Pehchan Faridabad
Know Your City

शादी के 6 महीने बाद ही पत्नी को लगी इस चीज की लत, पति ने उठाया ये कदम

जब कोई लत आदत बन जाए तो होता है ऐसा, जैसा इस पति ने पत्नि के साथ किया। दरअसल किसी भी रिश्ते को समझना और भी उसे निभाना बेहद ज़रूरी होता है। क्योंकि बिना समझे किसी भी रिश्ते को निभाया नहीं जा सकता है क्योंकि वो रिश्ता, रिश्ता नहीं बल्कि बोझ बन जाता है।

इसी तरह से अगर रिश्तों में किसी भी बात को लेकर अनबन हो तो रिश्ते को सिर्फ बातचीत से ही दुरूस्त किया जा सकता है। क्योंकि एक-दूसरे को समझना बेहद ज़रूरी होता है।

photo of a surprised woman
Photo by Andrea Piacquadio on Pexels.com

कई बार देखा गया है कि आप जिसको बेहद प्यार भी करते हो तो भी उसकी गलत हरकतों की वजह से अनदेखा करना शुरू कर देते हों, दरअसल यहां हुआ भी कुछ ऐसा ही, बतादें कि सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मामला कर्नाटक से सामने आया है।

यहां पर एक पति ने अपनी पत्नी की एक लत से परेशान होकर उसको मौत के घाट उतार दिया है। हालांकि पुलिस ने आरोपी पति को हिरासत में ले लिया है। पुलिस के मुताबिक युवक का विवाह 6 महीने पहले एक युवती से हुआ था।

surprised young woman browsing mobile phone
Photo by Andrea Piacquadio on Pexels.com

इसके बाद महिला को सोशल मीडिया की लत पड़ गई। जिससे पति बेहद परेशान रहने लगा था, युवक की परेशानी का कारण ये था कि पत्नि बच्चे का ख्याल ना रखते हुए सिर्फ और सिर्फ सोशल मीडिया पर ही व्यस्त रहती थी जिसकी वजह से बच्चे को काफी दिक्कत भी होती थी।

और इसी के चलते पति ने तंग आकर पत्नि को मौत के घाट उतार दिया। जानकारी के मुताबिक आरोपी युवक ने पुलिस को बताया है कि दोनों की जान-पहचान फेसबुक पर हुई थी। धीरे-धीरे दोनों में प्यार हो गया। और शादी के बाद महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया। लेकिन महिला को सोशल मीडिया की लत पड़ गई थी इसलिए वो अपने बच्चे पर भी ध्यान नहीं देती थी।

couple hugging and using smartphone near sea on sunset
Photo by ROMAN ODINTSOV on Pexels.com

और ऐसा करने पर पति ने पत्नि को कई बार समझाया, लेकिन वो ना मानी। इस तरह से दोनों के संबंध में दरार आनी शुरू हो गई। इस सबके बीच मुसिबत बच्चे को होने लगी, क्योंकि महिला बच्चे पर ध्यान नहीं देती थी और इसी के चलते पति ने अपनी पत्नि को मौत के घाट उतार दिया।

कहते हैं कि कोई भी रिश्ता तभी सफल रहता है और जीवनभर चल पाता है जिसमें एक-दूसरे को सहयोग और समझने की प्रवृति हो। अगर किसी रिश्ते में भाव नहीं होते हैं तो चाहे रिश्ता पति-पत्नि जैसा पाक-पवित्र ही क्यों ना हो दरार उसमें भी आ जाती है।

इसलिए हम सभी को अपने व्यक्तिगत स्वार्थ छोड़कर अपनों को भी अहमियत देनी चाहिए, ताकि हमारे रिश्ते उसी भाव के साथ आगे बढ़ सकते जिसकी उसे ज़रूरत होती है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More