HomeIndiaकपड़े धोते वक्त पिता की जेब से बेटी को मिली एक पर्ची,...

कपड़े धोते वक्त पिता की जेब से बेटी को मिली एक पर्ची, लिखी थी ऐसी बात जिसे पढ़ते ही कांप उठी बेटी

Published on

तंत्र-मंत्र से हो जाते हैं लोग बर्बाद, आप ऐसी लापरवाही ना करना क्योंकि आपकी एक लापरवाही आपकी और आपके अपनों की जान को बन आ सकती है इसलिए आपको हमेशा सतर्क रहने की ज़रूरत है। कुछ लोग तांत्रिक विद्या करने वाले लोगों के चक्कर में फसकर कुछ ऐसा कर गुज़रते हैं जिससे कि ज़िन्दगी तक दाव पर लग जाती है और इस मामले में भी कुछ ऐसा ही हुआ है जिसे हम आपके सामने रखने जा रहे हैं।

बतादें कि हाल ही में हुई एक घटना में भी कुछ ऐसा ही हुआ। दरअसल एक व्यक्ति की मौत होने पर उसके घर वालों ने उसका दाह संस्कार कर दिया लेकिन जब उस व्यक्ति की लड़की अपने पिता के कपड़े धोने के लिए बैठी वो हैरान और सन्न हो गई क्यों कि उस व्यधक्ति् की जेब में एक ऐसी पर्ची मिली थीं जिसे पढ़ते ही उसके पैरों के नीचे से ज़मीन निकल गई थी।

कपड़े धोते वक्त पिता की जेब से बेटी को मिली एक पर्ची, लिखी थी ऐसी बात जिसे पढ़ते ही कांप उठी बेटी

हैरानी की बात तो ये थी कि जिस इंसान की मृत्युर हुइ थी उसकी मौत का मामला भी तंत्र-मंत्र और अंधविश्वािस से ही जुडा हुआ था। आपको बता दें कि पर्ची किसी तांत्रिक द्वारा दी गई थी, जिसपर लिखा हुआ था कि जमीन में यदि गड़ा हुआ सोना चाहिए तो दिगंबर को किसी रिश्तेदार की हत्या करवानी पड़ेगी।

इतना ही नहीं इस व्यकक्तिक ने तांत्रिक की बात को मानते हुए अपने ही चचेरे भाई की बलि दे दी। लेकिन अफसोस कि उस पर्ची की वजह से मामले की पोल खुल गई और फिर उस परची के मिलने पर मामला पुलिस को पुलिस को बताया गया जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तांत्रिक और उसके भाई को गिरफ्तार कर लिया गया है।

कपड़े धोते वक्त पिता की जेब से बेटी को मिली एक पर्ची, लिखी थी ऐसी बात जिसे पढ़ते ही कांप उठी बेटी

पुलिस का कहना है कि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और अब मामले का पूरा खुलासा भी बहुत जल्द ही हो जाएगा। पुलिस के मुताबिक जांच पड़ताल चल रही है और हो सकता है कि मामले में अभी और भी गिरफ्तारियां हो सकती हैं।

अब पीड़ित परिजनों का कहना है कि ये तो सोच के ही परे है कि लालच इस कदर इंसान में आ जाए कि वो परिवार के ही सदस्य की जान लेले। वैसे देखा जाए तो बचपन में हमने भी कुछ ऐसी ही कहानियां पढ़ी थीं जिसमें कहा जाता था कि लालच बुरी बला है। अब इस मामले ने एक बार फिर से ऐसे मसलों को उजागर कर दिया है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...