HomeTrendingजैसे-तैसे 30 बच्चों का पेट भरता था गरीब मजदूर, अचानक मिला अलादीन...

जैसे-तैसे 30 बच्चों का पेट भरता था गरीब मजदूर, अचानक मिला अलादीन का चिराग तो 4 बीवियों का पति बना करोड़पति

Published on

आपकी किस्मत भी आपको करोड़पति बना सकती है कैसे। कहते है कि जिंदगी में अगर कुछ पाना हो पाने की चाह हो तो शिद्दत से आपको मेहनत भी करनी पड़ती है और उस मेहनत का फल कब कहां कैसे और कितना मिल जाए कोई नहीं जानता।

देखिये जो कहानी आपको बताने जा रहे जिस कहानी को आप इस वक़्त पढ़ रहे है पूरी कहानी को पढ़िए। यकीन मानिए आपको बहुत मजा आएगा। तो कहानी इस तरह की है कि एक युवक की 4 बीवियां, 30 बच्चे और बेहद गरीब हालातों में।

जैसे-तैसे 30 बच्चों का पेट भरता था गरीब मजदूर, अचानक मिला अलादीन का चिराग तो 4 बीवियों का पति बना करोड़पति

ये युवक अपने परिवार का भरण पोषण करता था और एक खाद्यान्न में खोदाई का काम किया करता था लेकिन उसके बाद क्या कुछ हुआ। जी हां उसके बाद ऐसा कुछ हुआ जिसे इस गरीब परिवार की जिंदगी ही पलट गई।

देखिये कहावत है कि राजा कभी भी रंक बन सकता है ये समय पर निर्भर है, भाग्य पर निर्भर है और रंक यानी गरीब, फ़क़ीर कभी भी राजा बन सकता है। तो रातोरात ये शख्स फ़क़ीर गरीब से अपनी मेहनत के दम पर, भाग्य के दम पर करोड़पति की लिस्ट में शामिल हो गया।

जैसे-तैसे 30 बच्चों का पेट भरता था गरीब मजदूर, अचानक मिला अलादीन का चिराग तो 4 बीवियों का पति बना करोड़पति

क्योंकि ये जब खाद्यान्न की खोदाई कर रहा था तो इसे एक ऐसा बेशकीमती पत्थर नजर आया जिसने इसे हासिल किया। और वो एक नहीं दो पत्थर इसे मिले।

दो पत्थरों की कीमत 22,49,89,728 यानी 22 करोड़ 49 लाख 89 हजार और 7 सौ 28 रूपये है। शख्स की पहचान सनीनिउ लाइज़र के रूप हुई। तंजानिया सरकार ने उसे पत्थर के अमाउंट का चेक दे दिया है।

जैसे-तैसे 30 बच्चों का पेट भरता था गरीब मजदूर, अचानक मिला अलादीन का चिराग तो 4 बीवियों का पति बना करोड़पति

शख्स को जो दो पत्थर मिले थे उनका रंग गहरे बैंगनी रंग का था। दोनों पत्थर काफी बड़े थे। इनकी बिक्री मन्यारा में हुई थी। लाइज़र को ये दो पत्थर तब मिले थे जब वो तंजानिया के एक खदान में पत्थर तोड़ रहा था।

इस खदान को चारों तरफ से दीवार से घेर दिया गया है ताकि कीमती मिनरल्स की तस्करी ना हो सके। अगर आप मोहताज है, फिर आप परेशान है या फिर आप हताश है फिर आप गरीब है, फिर आप फ़क़ीर है तो परेशान मत होइए।

जैसे-तैसे 30 बच्चों का पेट भरता था गरीब मजदूर, अचानक मिला अलादीन का चिराग तो 4 बीवियों का पति बना करोड़पति

ईमानदारी के साथ अपने कर्म में लगे रहिए। क्योंकि जीवन जीने की कला वही सिखाता है जिसने हमे जन्म दिया है। हर किसी के जमीन पर आने का एक आधार और वजह होता है लेकिन वो हमें ना पता होने की वजह से हम हमेशा परेशान होते है।

जैसे-तैसे 30 बच्चों का पेट भरता था गरीब मजदूर, अचानक मिला अलादीन का चिराग तो 4 बीवियों का पति बना करोड़पति

आप अपने जीवन को सरल और सुगम बनाते रहिए। जो भी मौका मिले उसे अच्छे से करते रहिए। कब काम आपका सफल हो जाए, कब ईमानदारी आपके भाग्य पर आगे एक ऐसी लकीर खींच दे कि आप दिनोदिन दिन दूनी और रात चौगुनी तरक्की करना शुरू कर दें।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...