Pehchan Faridabad
Know Your City

रिसर्च में हुआ खुलासा, ज्यादा पैसा कमाने वाले लोग अधिक होते है हाई ब्लडप्रेशर के शिकार

आज की दुनिया में लोग ज्यादा व्यस्त होने लगे है जिसकी वजह से लोग ज्यादा स्ट्रेस भी लेने लगे है। टेंशन लेने की वजह लोग ज्यादा बीमार पड़ रहे हैं। काम में लोग इतना ज्यादा व्यस्त हो जाते है कि ज्यादा टेंशन लेने लगते है। अब एक और खुलासा हुआ है जिसमें ज्यादातर पैसे वाले लोग को टेंशन होता है

जिसकी वजह ब्लडप्रेशर की बीमारी पकड़ रही है। जी हां अब एक अध्ययन के माध्यम से ये खुलासा हुआ कि ज्यादा अमीर लोग ही ब्लडप्रेसर के शिकार होते है। वहीं जिंदगी की मसरूफियत से बढ़ती परेशानियों ने लोगों को कम उम्र में ही ताउम्र साथ रहने वाली बीमारियों का शिकार बना दिया है।

mad formal executive man yelling at camera
Photo by Andrea Piacquadio on Pexels.com

हाई बीपी की समस्या, जिसमें धमनियों में रक्त का दबाव बढ़ जाता है। इस दबाव की बढ़ोतरी से रक्त की धमनियों में रक्त का प्रवाह बनाए रखने के लिये दिल को अधिक काम करने की जरुरत पड़ती है।

हाइपरटेंशन के कारण लोग हार्ट अटैक, ब्लड प्रेशर, किडनी संबंधी समस्याओं के भी शिकार हो जाते हैं। कई लोगों को अधिक तनाव के कारण हाइपरटेंशन की समस्या हो जाती हैं। बता दे कि ये एक साइलेंट किलर बीमारी है। जो लोगों के अंदर ही अंदर शरीर को खाता है।

young ethnic couple sitting on sofa after conflict
Photo by Ketut Subiyanto on Pexels.com

अध्ययन जापानी सर्कुलेशन सोसायटी की 84वीं वार्षिक वैज्ञानिक बैठक में प्रस्तुत किया गया है। जापान में 4,314 लोगों को एक अध्ययन में शामिल किया गया जिसमें शोधकर्ताओं ने घरेलू आय और उच्च रक्तचाप के बीच संबंधों की जांच की।

अध्ययन में समूहों को 5 मिलियन येन, 7.9 मिलियन येन, 8 मिलियन, 9.9 मिलियन येन, और 10 मिलियन येन से अधिक आय वाले समूह में विभाजित किया।

close up composition conceptual creativity
Photo by Pedro Figueras on Pexels.com

वहीं आपलोग से यही आग्रह है कि आप काम करें लेकिन टेंशन कम से कम ले ताकि बीमारी के शिकार न हो। वरना बीमारी से लोग समय से पहले ही दुनिया को छोड़ कर चले जाते हैं। अगर लंबी जिंदगी जीना है तो टेंशन को कहे बाई- बाई।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More