HomePolitics6 अक्टूबर को पंजाब से देवीगढ़ बॉर्डर के रास्ते होते हुए हरियाणा...

6 अक्टूबर को पंजाब से देवीगढ़ बॉर्डर के रास्ते होते हुए हरियाणा आएंगे राहुल गांधी

Published on

केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिए लाए गए कृषि अध्यादेश के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। ऐसे में कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन के लिए आने वाली 6 और 7 अक्टूबर को राहुल गांधी हरियाणा में कुछ करेंगे।

हरियाणा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के आने का उद्देश्य यह है कि केंद्र सरकार द्वारा जो किसानों के लिए अध्यादेश लाया गया है उसमे कुछ त्रुटियां है जिनमे सुधार कि बेहद आवश्यकता है।

6 अक्टूबर को पंजाब से देवीगढ़ बॉर्डर के रास्ते होते हुए हरियाणा आएंगे राहुल गांधी

हरियाणा के नेताओं की यहां रविवार को हुई बैठक में उनके कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया गया। हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने अधिक जानकारी देते हुए बताया कि राहुल गांधी 6 अक्तूबर को पंजाब से देवीगढ़ बॉर्डर के रास्ते हरियाणा में प्रवेश करेंगे।

वहां से ट्रैक्टरों के साथ पिहोवा आकर एक जनसभा को संबोधित करेंगे। वहीं इसके बाद वह बाद कुरुक्षेत्र जाएंगे। अगली सुबह पीपली मंडी से यात्रा शुरू होगी और वह नीलोखेड़ी होते हुए करनाल जाएंगे।

6 अक्टूबर को पंजाब से देवीगढ़ बॉर्डर के रास्ते होते हुए हरियाणा आएंगे राहुल गांधी

सैलजा ने आगे कहा कि राहुल की यह यात्रा किसानों की लड़ाई में मील का पत्थर साबित होगी। वहीं इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि भाजपा सरकार के लाए कृषि कानून किसानों के हित में नहीं हैं।

उन्होने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए इन्हीं काले कानूनों का विरोध करने के लिए राहुल गांधी हरियाणा आ रहे हैं। इसलिए जरूरी है कि केंड सरकार द्वारा लाए गए अध्यादेश के खिलाफ जमकर विरोध किया जाए ताकि केंद्र सरकार भी अपनी गलतियों को सुधार सकें।

गौरतलब, हरियाणा कांग्रेस ने हाथरस कांड के खिलाफ सोमवार को प्रदेश में विरोध कार्यक्रम का भी ऐलान किया। बताते चलें कि 14 सितंबर को एक दलित पीड़ित लड़की का सामूहिक दुष्कर्म कर उसके साथ बर्बरता की गई थी, इतना ही नहीं यूपी पुलिस द्वारा आधी रात पीड़ित परिवार की अनुपस्थिति में पीड़ित का दाह संस्कार कर दिया गया था।

इस घटना के बाद से ही पूरे देश में यूपी सरकार और यूपी पुलिस को लेकर कई तरह के सवाल उठाए जा रहे है। इस बैठक में सैलजा, हुड्डा के अलावा किरण चौधरी, विवेक बंसल, अजय यादव, धर्मपाल मलिक समेत कई वरिष्ठ नेता शमिल हुए।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...